CarDekho.com - Best place to buy New and Used Cars in India
शहर चुनें

टाटा नेक्सन ईवी: फर्स्ट ड्राइव रिव्यू 

Published On जनवरी 21, 2020 By tushar for टाटा नेक्सन ईवी

पारम्परिक फ्यूल पेट्रोल और डीजल वर्ज़न के अलावा अब टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक अवतार में भी उपलब्ध होगी। नेक्सन ईवी को इसके फेसलिफ्ट वर्ज़न पर तैयार किया गया है। यह फेसलिफ्ट अपडेट आपको पेट्रोल-डीजल नेक्सन में भी मिलेगा। बहरहाल, यहां हम इसके कन्वेंशनल फ्यूल मॉडल की नहीं इसके इलेक्ट्रिक वर्ज़न की बात करने वाले हैं और बताएंगे आपको इसके बारे में सब कुछ! आखिरकार, इसे नई स्टाइलिंग और नए फीचर्स के साथ पेश किया गया हैं जो आपको टाटा नेक्सन फेसलिफ्ट में भी देखने को मिलेंगे। इसमें आपको साइलेंट ड्राइव एक्सपीरियंस और इंस्टेंट टॉर्क के साथ बाकी वो सब भी मिलेगा जो आप पहले से ही इलेक्ट्रिक कारों के बारे में जानते हैं। लेकिन आपको डीजल/पेट्रोल नेक्सन की जगह ईवी क्यों खरीदना चाहिए? और ऑन-रोड यह आपको कितनी ड्राइव रेंज देगी? आईये जानें 

डिज़ाइन

टाटा इस फेसलिफ्ट वर्ज़न के साथ नेक्सॉन को अलग और नई पहचान देने में कामयाब हुई है। पहले की तुलना में यह ज्यादा अच्छी लग रही है और जिन लोगो को इसकी फ्रंट स्टाइलिंग पहले कुछ अटपटी लगती थी, उन्हें भी अब शायद नेक्सन से कोई शिकायत नहीं होनी चाहिए। हमारे अनुसार यह अब तक की सबसे अच्छी दिखने वाली सब-4 मीटर एसयूवी है! नई नेक्सन अपडेटेड बम्पर, फ्लैट बोनट और प्रोजेक्टर-हलोजन हेडलैंप की शार्प स्टाइलिंग इसे कुछ हद तक रेंज रोवर इवोक जैसा लुक देती है।

साइड प्रोफाइल की बात करें तो इसमें 16-इंच के शानदार डिज़ाइन वाले नए अलॉय व्हील्स दिए गए हैं। पीछे की ओर, इसकी ओवरऑल प्रोफाइल पहले के जैसी ही है।हालांकि, इसमें स्पाइडर मैन से प्रेरित नए एलईडी टेललाइट्स दी गई है जो रात में बेहद अच्छी लगती है।

 गौरतलब है कि इन सब बदलावों के बाद भी नेक्सन की साइज में एक मिलीमीटर का भी अंतर नहीं आया है। हालांकि, नेक्सन ईवी में बैटरी पैक के फ्लोर पैन के चलते ग्राउंड क्लीयरेंस में 4 मिलीमीटर की कमी आई है। लेकिन इसके बावजूद भी आपको इसमें 205 मिलीमीटर का ग्राउंड क्लीयरेंस मिलेगा जो कि एक एसयूवी के लिए पर्याप्त है।

क्या नेक्सन ईवी, स्टैंडर्ड नेक्सन से अलग दिखती हैं? हाँ, टाटा ने ईवी को इसके स्टैंडर्ड मॉडल (पेट्रोल/डीजल) से अलग पहचान देने के लिए इसकी फॉग लैंप हाउसिंग, फ्रंट ग्रिल, शोल्डर लाइन और इंटीरियर में ब्लू कलर हाइलाइट्स दी है। साथ ही इसके रियर में आपको "ज़िपट्रोन'' और ''ईवी'' की बैजिंग भी मिलेगी जो इसके इलेक्ट्रिक कार होने को बतलाती है। 

इंटीरियर

बात की जाए इंटीरियर की तो, यहां भी टाटा ने कुछ मामलू बदलाव किए हैं। इनमें डैशबोर्ड का सेंटर प्लास्टिक पैनल अब ब्लैक कलर में आएगा। इसमें एसी वेंट्स, इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर हाउसिंग और सेंटर कसोल स्टोरेज पर ब्लू कलर हाइलाइट्स दिए गए हैं जो इस ब्लैक कलर के साथ कामल का कॉम्बिनेशन साबित हो रहे हैं। साथ ही, हमे महसूस हुआ कि कंपनी ने इसकी मैटेरियल क्वालिटी में सुधार किया गया है। हालांकि, एक्सयूवी300 और वेन्यू की तुलना में यह अब भी पीछे हैं। 

टाटा ने इसमें कई नए फीचर्स भी जोड़े हैं जो इसकी प्रीमियमनेस को और बढ़ा रहे हैं। इनमें ऑटोमैटिक हेडलैम्प्स, ऑटो वाइपर, व्हाइट लेदर अपहोल्स्ट्री और सनरूफ शामिल हैं। साथ ही कंपनी ने इसमें टाटा अल्ट्रोज के जैसा स्टाइरिंग व्हील और इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर भी दिया है। इसका मतलब है कि अब नेक्सॉन के इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में आपको 7-इंच की डिस्प्ले मिलेगी जिसमे ड्राइविंग से सम्बंधित विभिन्न जानकारियां जैसे:- रेंज, बैटरी स्टेटस, एनर्जी फ्लो एनीमेशन, ओडोमीटर, ट्रिप मीटर, टाइम, टेम्परेचर, ड्राइव मोड और पावर फ्लो हिस्टोग्राम आदि देखी जा सकेगी।

यही नहीं, टाटा नेक्सन ईवी में आपको कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी भी मिलेगी, जिसमे आपको जियो फेंसिंग, लोकेशन, कार ट्रैकिंग, हेल्थ डाटा सहित 30 से ज्यादा कनेक्टिविटी फीचर्स मिलेंगे। इस फीचर्स के द्वारा आप 'जेडकनेक्ट' नाम की मोबाइल एप्लिकेशन के जरिए कार के डोर को लॉक/अनलॉक, एयर कंडीशन को कंट्रोल और कार को ट्रैक/इम्मोबिलाइज़ भी कर सकेंगे।

इसके अलावा इसमें पहले की तरह ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल, रियर एसी वेंट, इंजन स्टार्ट/स्टॉप बटन, की-लेस एंट्री, क्रूज कंट्रोल और हार्मन का 6.5-इंच का टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम मिलना जारी रहेगा।

फीचर्स के अलावा, नेक्सन ईवी में आपको पुरानी स्टैंडर्ड नेक्सन के जैसा ही केबिन स्पेस मिलेगा। इसमें चार एडल्ट पैसेंजर्स आराम से बैठ सकते हैं। इसमें मिलने वाली सीटें बेहद कम्फर्टेबल हैं। नेक्सन ईवी की ख़ास बात ये है कि इसमें बैटरी पैक लगने के बावजूद भी केबिन के एंट्री पॉइंट की ऊंचाई नहीं बड़ी है जिससे कार में बैठना और उतरना पहले की तरह आसान है। साथ ही इसमें भी आपको स्टैंडर्ड नेक्सन की तरह 350-लीटर का बूटस्पेस मिलेगा। 

कुल मिलकार आपको नेक्सन ईवी के साथ उन पहलूओं पर समझौता नहीं करना पड़ेगा जिसके लिए नेक्सन को जाना जाता था। इसमें उन्हें बेकरार रखते हुए कुछ और नई बेहतरीन चीज़ो का समावेश किया गया है।

परफॉर्मेंस

टाटा के पोर्टफोलियो में टिगॉर ईवी वर्तमान में सबसे सस्ती ईवी है। लेकिन इसकी परफॉर्मेंस उतनी फन-टू-ड्राइव नहीं थी जो निजी उपयोग के लिए खरीदते समय आप इससे चाहेंगे। हालांकि, नेक्सन ईवी के केस में कहानी कुछ और है। इसे एक अलग इलेक्ट्रिक व्हीकल आर्किटेक्चर पर बनाया गया है। यह अधिकतम 129 पीएस की पावर और 245 न्यूटन मीटर का टॉर्क जनरेट करने में सक्षम है। 80 से 100 किमी/घंटे की स्पीड भी नेक्सन ईवी के ईको जोन में आती है यानी इस स्पीड पर भी आप बिना ड्राइव रेंज की चिंता किए चल सकते हैं। साथ ही यह 100 किमी/घंटा की स्पीड पर भी उतनी ही स्टेबल महसूस होती है जितनी की 30 किमी/घंटा की स्पीड पर। 

टाटा नेक्सन ईवी की पर्फॉर्मन्स शानदार हैं और ये हमारी हर उमीदों पर खड़ी उतरी। यह बेहद स्मूथ चलती है और बेशक बिना किसी आवाज के! गाड़ी का थ्रोटल रिस्पांस कमाल का है। साथ ही, टॉर्क डिलीवरी भी काफी तेज़ी से होती है। इसमें सिंगल स्पीड एएमटी ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन मिलता है जो ड्राइविंग को परेशानी मुक्त बनाता है। टाटा ने ईवी में भी पेट्रोल/डीजल नेक्सन की तरह ही ड्राइव मोड चुनने के लिए रोटेटरी डायल दिया है। हमारे अनुसार नेक्सन ईवी में दिया गया एएमटी अब तक के सबसे अच्छे एएमटी में से एक है जिन्हें हमने चलाया हैं।

चाहे हाईवे हो या सिटी, नेक्सन ईवी से ओवरटेकिंग और क्रूजिंग करना बहुत आसान है। 'डी' मोड पर थ्रोटल रिस्पांस अच्छा है मगर आप जैसे ही 'स्पोर्ट' मोड चुनते हैं तो चुटकियों में गाड़ी हवा से बात करने लगेगी। इस मोड पर थ्रोटल मोड बेहद सेंसिटिव हो जाता है और अपने नाम की तरह काफी तेज़ी से रिस्पांस करता है। नार्मल क्रूजिंग के समय हमें नहीं लगता आपको स्पोर्ट मोड की जरूरत पड़ेगी। इसके लिए नेक्सन ईवी का 'डी' मोड ही काफी हैं। हाँ, यदि आप एक्साईटिंग एक्सपीरियंस लेना चाहते हैं तो बात अलग हैं। 

टाटा के अनुसार नेक्सन ईवी मात्र 9.9 सेकण्ड्स में 0 से 100 किमी/घंटा की स्पीड हासिल कर सकती है। लेकिन हमारे एक्सेलरेशन टेस्ट में इस इलेक्ट्रिक कार ने केवल 9.48 सेकण्ड्स में ये आंकड़ा पार कर लिया और वो भी बूट स्पेस में कुछ समान और दो लोगो के बेठे होने पर।  

टाटा ने नेक्सॉन ईवी की बैटरी लाइफ और रेंज को संरक्षित रखने के लिए इसकी टॉप स्पीड को 120 किमी/घंटा पर लिमिट किया है। यानी नेक्सॉन ईवी इस स्पीड से ऊपर नहीं जाएगी। हालांकि, आप इस स्पीड पर बिना किसी परेशानी के इसे चला सकते हैं।  

चार्जिंग

  • ऑप्शन 1: आप इसे डायरेक्ट करंट (डी.सी.) फ़ास्ट चार्जर के सहारे मात्र एक घंटे में 0 से 80% तक चार्ज कर सकते हैं। हमारे टेस्ट के अनुसार 0% तक इसकी बैटरी पहुंचाना कोई आसान काम नहीं हैं और जब इसकी बैटरी बेहद कम हो जाती है तो इसका थ्रोटल रिस्पांस कम हो जाता है ताकि आपको बेहतर रेंज मिल सकें। और ऐसे समय आपको इसे चार्ज कर लेना चाहिए। 

  • ऑप्शन 2: 3.3 किलोवॉट के अल्टरनेटिव करंट (ए.सी.) होम चार्जर के सहारे यह 80% तक चार्ज होने में लगभग 8 घंटे का समय लेगी।

सेफ्टी

टाटा नेक्सन ईवी के सभी वैरिएंट में आपको ड्यूल एयरबैग, एबीएस, ईबीडी और आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट माउंट्स जैसे सेफ्टी फीचर्स स्टैंडर्ड मिलेंगे। साथ ही इसमें हिल-होल्ड असिस्ट, हिल-डिसेंट असिस्ट, कॉर्नरिंग फॉग लैंप, रियर पार्किंग सेंसर्स और रियर कैमरा जैसी खूबियां भी मिलती हैं। टाटा नेक्सन के स्टैंडर्ड वर्ज़न को ग्लोबल एनकैप में 5-स्टार सेफ्टी रेटिंग मिली थी। लेकिन नेक्सन ईवी के फ्रंट स्ट्रुक्टर में बदलाव किया गया है ऐसे में इसका अलग से क्रैश टेस्ट भी होगा। टाटा को उम्मीद है कि इसे भी 5-स्टार रेटिंग मिलेगी। 

टार्चर टेस्ट 

हमने इसे टार्चर टेस्ट नाम दिया है। इस टेस्ट के दौरान हमने नेक्सन ईवी की अधिकतम रेंज पर ध्यान नहीं देते हुए इसकी न्यूनतम रेंज का पता लगाने की कोशिश की है। इस दौरान हमने इसे अलग-अलग ड्राइविंग पैटर्न, कई बार हार्ड एक्सेलरेशन, विभिन्न ट्रैफिक कंडीशन और ड्राइव मोड पर चलाया।  

जब हमे गाड़ी ड्राइव करने को मिली तब नेक्सन ईवी की यह 30.20 किलोवॉट-ऑवर की बैटरी 95% चार्ज थी। इस दौरान गाड़ी का इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर 237 किमी की ड्राइव रेंज शो कर रहा था। यानी इस बची हुई बैटरी स्टेट में इसे 237 किमी और चलाया जा सकता था। 50 किमी चलाने और इस दौरान दो बार 0-120किमी/घंटे का एक्सेलरेशन करने के बाद इसकी रेंज घटकर 150 किमी रह गई। जब हम नेक्सन ईवी को टेस्ट कर रहे थे इस समय कार में हम 3 लोग बैठे थे और बूट में कुछ सामान भी रखा हुआ था। 

इसके बाद हम मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर गए। हाईवे पर इलेक्ट्रिक व्हीकल्स ज्यादा जल्दी लौ होती है क्योंकि हाईवे पर ब्रेकिंग कम होती है जिससे ब्रेक-एनर्जी-रिजनरेशन बेहद कम हो जाता है। और ऐसा ही हुआ, हाईवे पर नेक्सन ईवी की बैटरी और रेंज सिटी ड्राइविंग की तुलना में तेज़ी से कम होने लगी। 

हमारा लक्ष्य था कि हम नेक्सन ईवी की बैटरी को 0% होने तक इस्तमाल करें। 20% बैटरी स्टेट पहुंचने पर लौ-बैटरी वार्निंग इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर पर प्रदर्शित होने लगी और इसी के साथ ही थ्रोटल रिस्पांस भी थोड़ा कम हो गया। इस दौरान आप स्पोर्ट मोड को नहीं चुन सकते हैं। 10% बैटरी पहुंचने तक "लिमिटेड परफॉर्मेंस" वार्निंग प्रदर्शित होने लगी। इस दौरान थ्रोटल रिस्पांस काफी कम हो गया और एसी बंद हो गया।  आप इस बैटरी स्टेट में 55 किमी/घंटा की स्पीड से तेज़ नहीं चल सकेंगे। कुछ देर और चलाने के बाद बैटरी 8% पर पहुंच गई। लेकिन समय की कमी के चलते हमे कार वापस लौटानी पड़ी। 

हमारे रोड टेस्ट ख़त्म होने पर नेक्सन ईवी में 8% बैटरी बची थी और हमे इसे कुल 165 किमी चलाया। इस लिहाज़ से कहां जा सकता है कि बेहद ही ख़राब,असक्षम और इर्रेगुलर ड्राइविंग पैटर्न पर भी नेक्सन ईवी कम से कम 180-200 किमी का माइलेज दे देगी। और यदि आप इसे ढंग से चलाए तो आपको आराम से 250 किमी की ड्राइव रेंज मिल जाएगी।  

एआरएआई के अनुसार नेक्सन ईवी 312 किमी की रेंज देने में सक्षम है। हालांकि, इतनी रेंज निकलने के लिए आपको कम स्पीड पर ड्राइविंग करने की जरूरत पड़ेगी। और ऐसा केवल सिटी ड्राइविंग में ही संभव है जहां रिजनरेटिव ब्रेकिंग तकनीक भी बेहतर रेंज देने में मदद करती है। कुल मिलकर हम इसे एक बेहतरीन सिटी एसयूवी इलेक्ट्रिक कार कहेंगे जो कि छोटी हाईवे ट्रिप करने में भी सक्षम है।

नेक्सन ईवी के बारे में कुछ रोचक तथ्य:- 

  • टाटा नेक्सन ईवी का कर्ब वेट 1400 किग्रा है। 

  • नेक्सन ईवी की बैटरी आईपी67 रेटिंग के साथ आती है। यानी यह 1 मीटर गहरे पानी में 30 मिनट तक बिना किसी नुकसान के डूबी रह सकती है।

  • कार में पेश किए जाने से पहले इस सब-कॉम्पैक्ट एसयूवी की बैटरी पर कई टेस्ट किए जाते हैं। इनमें नेल पेनेट्रेशन टेस्ट, क्रश टेस्ट, फायर पोंड टेस्ट, ओवरचार्ज प्रोटेक्शन टेस्ट, शॉक प्रोटेक्शन टेस्ट और शार्ट सर्किट प्रोटेक्शन टेस्ट आदि शामिल हैं। 

  • होम चार्ज के माध्यम से इसे 0 से 100% चार्ज करने में 300-350 रुपये तक का खर्च आएगा।

  • बैटरी चार्जिंग टाइम आस-पास के वातावरण के तापमान पर भी निर्भर करता हैं क्योंकि बैटरी अपना ऑपरेटिंग टेम्परेचर बनाए रखने के लिए भी अपने पावर का इस्तमाल करती है। 

  • रिप्लेसमेंट/खपत हो जाने वाले पार्ट्स/ऑयल की कमी के चलते इसका मेंटेनेंस कम है। 

  • टाटा नेक्सन ईवी के साथ 8-साल/1,60,000 किमी की बैटरी वारंटी मिलेगी। 

  • यह तीन वैरिएंट्स: एक्सएम, एक्सजेड+ और एक्सजेड+ लक्स में उपलब्ध होगी।

निष्कर्ष

हमारे अनुसार नेक्सन ईवी 20 लाख तक की प्राइस रेंज में सबसे बेहतरीन पैकेज है। एआरएआई द्वारा बताई गई 312 किमी की रेंज मिलना शायद मुश्किल हो, लेकिन यह आपको 200 से 250 किमी तक की रेंज तो आराम से दे देगी। इस हिसाब से भी यह पेट्रोल/डीजल कार से बेहद सस्ती साबित होती है। साथ ही इसकी रिफ्रेश डिज़ाइन और परफॉर्मेंस कमाल की है। 

इसके अलावा, नेक्सन ईवी का अच्छा केबिन स्पेस, कम्फर्ट और अच्छे फीचर्स इसे काफी प्रैक्टिकल और फॅमिली फ्रेंडली कार बनाते हैं। केवल आपको हाईवे पर इसकी लिमिटेड रेंज का ध्यान रखना पड़ेगा। हालांकि, हाईवे पर ड्राइविंग के दौरान आपको इसकी परफॉर्मेंस से कोई शियाकत नहीं होगी।

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
We need your सिटी to customize your experience