• लॉगिन / रजिस्टर

स्कोडा कुशाक प्रोटोटाइप : फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On फरवरी 08, 2021 By भानु for स्कोडा कुशाक

फॉक्सवैगन और स्कोडा ने अपने एमक्यूबी एओ प्लेटफॉर्म को भारत में ही तैयार कर दिया है। इस प्लेटाफॉर्म पर तैयार की जाने वाली पहली कार कुशाक होगी। इसे  ऑटो एक्सपो 2020 में विजन आईएन नाम से शोकेस किया जा चुका है और इसके प्रोडक्शन मॉडल को कुशाक नाम से पेश किया जाएगा। बाजार में स्कोडा कुशाक हुंडई क्रेटा और किया सेल्टोस को कड़ी टक्कर देगी। हालांकि ये मुकाबला काफी कड़ा होगा और स्कोडा की इस अपकमिंग एसयूवी कार के लिए बाजार में हिट होना उतना आसान भी नहीं रहने वाला है। हमें स्कोडा कुशाक के प्रोटोटाइप मॉडल को ड्राइव करने का मौका मिला और सबसे पहले हम आपको इसकी लॉन्चिंग के पहले दिखाने वाले हैं इसकी कुछ झलक और साथ ही बताएंगे कैसी होगी ये अपकमिंग कार:

लुक्स

हमने पूरे कवर से ढकी हुई कुशाक के प्रोटोटाइप मॉडल की टेस्ट ड्राइव ली है। इसकी विंडो से लेकर फ्रंट ग्रिल तक सबकुछ कवर की गई थी। यहां तक कि कंपनी ने दूसरे अन्य पैनल्स पर भी पैडिंग की हुई थी जिससे इसका एक भी पार्ट नजर ना आ सके। हेडलैंप्स और टेललैंप्स को भी सिर्फ इतना ही खोला गया था कि उसकी रोशनी सड़क पर फैल सके।

इस प्रोटोटाइप मॉडल में स्टाइलिश से ब्लैक कलर के अलॉय व्हील दिए गए थे। हालांकि स्कोडा का कहना है कि उसने अब तक इसके डिजाइन को हरी झंडी नहीं दी है और इसके प्रोडक्शन मॉडल में रिम और टायरों की साइज को बदला जा सकता है। 

इंटीरियर

एक्सटीरियर की तरह इसके इंटीरियर को भी प्लास्टिक से कवर किया गया था। यहां केवल गियर लिवर, हैंडब्रेक लिवर और इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर जैसी ही चीजें थी जो नजर आ रही थी। इसमें भारी भरकम स्टीयरिंग व्हील दिया गया था जो ऑटो एक्सपो में इसके कॉन्सेप्ट मॉडल में भी नजर आया था। लाइट ग्रे प्लास्टिक कवर के जरिए हमें फ्लोर कंसोल की झलक देखने को मिली थी जिसकी लुकिंग उतनी खास नहीं लगी। हालां​कि स्कोडा ने कहा है कि इसके प्रोडक्शन मॉडल में एक से बढ़कर एक शेड्स दिए जाएंगे। 

फीचर्स

अपकमिंग स्कोडा कुशाक में दिए जाने वाले सेफ्टी फीचर्स से अभी पर्दा नहीं उठ पाया है, मगर स्कोडा इसमें अच्छे खासे सेफ्टी फीचर्स देने की बात कह रही है। इसके हर वेरिएंट में इलेक्ट्रिॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल दिया जाएगा। इसके अलावा कुशाक में 6 एयरबैग, टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम, हिल होल्ड कंट्रोल, आईएसओफिक्स माउंट्स, ऑटो हेडलैंप्स और वायपर्स जैसे फीचर्स दिए जा सकते हैं।

रियर ​सीट

इसकी सीटों की साइज के बारे में भी कोई ठीक से जानकारी नहीं दी गई है। मगर स्कोडा ने कहा है कि कुशाक का व्हीलबेस 2651 मिलीमीटर होगा जो क्रेटा एवं सेल्टोस के मुकाबले  40 मिलीमीटर लंबा होगा। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि कुशाक में अच्छा खासा नीरूम मिलने की संभावना है। इस तरह कुशाक में चार एडल्ट पैसेंजर्स आराम से बैठ सकेंगे। 

इंजन और परफॉर्मेंस

स्कोडा कुशाक में दो इंजन: रैपिड वाला 1.0 लीटर टर्बो पेट्रोल और टी रॉक और कारॉक वाला 1.5 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन का  ऑप्शन दिया जाएगा। इन इंजन के साथ 6 स्पीड मैनुअल, 6 स्पीड  ऑटोमैटिक और 7 स्पीड डीएसजी गियरबॉक्स की चॉइस रखी जाएगी। हमने इसके 1.0 लीटर मैनुअल गियरबॉक्स वाले वेरिएंट और 1.5 लीटर डीएसजी वेरिएंट की टेस्ट ड्राइव ली है जिनकी परफॉर्मेंस के बारे में आप जानेंगे आगे। 

1.0 लीटर टीएसआई एमटी

अपकमिंग कुशाक में दिया जाने वाला 1.0 लीटर इंजन ने पोलो टीएसआई की याद दिला दी जिसका रिफाइनमेंट लेवल काफी अच्छा है और ये काफी पावरफुल भी है। कुशाक में तो ये और भी जबरदस्त परफॉर्मेंस देता हुआ नजर आया। गाड़ी आगे बढ़ाते समय हमें इसका क्लच काफी हल्का महसूस हुआ जो सिटी ट्रैफिक के हिसाब से अच्छी बात मानी जाती है। इसकी ड्राइवेबिलिटी भी हमें काफी पसंद आई जो ज्यादा डाउनशिफ्ट्स नहीं मांगती है। धीरे धीरे बढ़ते ट्रैफिक और स्पीड ब्रेकर्स के ऊपर से सेकंड गियर में गाड़ी आराम से चलती है। 1000 आरपीएम से इसमें अच्छी खासी टॉर्क भी जनरेट होने लग जाती है। अब आगे ये देखने वाली बात होगी कि सही मायनों में इसका इंजन फुल लोड के बाद किस तरह का रिस्पॉन्स देता है। 

1.5 लीटर टीएसआई एटी

यदि आप काफी मात्रा में लगेज और पूरी पैसेंजर कैपेसिटी के साथ इस गाड़ी का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो हमारी राय में इसमें दिया जाने वाला 1.5 लीटर टीएसआई इंजन ही ज्यादा बेहतर रहेगा। ये काफी तेजी से स्पीड पकड़ता है। 2000 आरपीएम से नीचे रहते हुए भी आपको पावर की कमी बिल्कुल महसूस नहीं होगी और टॉर्क आने में भी समय नहीं लगेगा। इसके साथ दिया जाने वाला 7 स्पीड डीएसजी गियरबॉक्स काफी क्विक है। हालांकि इसके केबिन में इंजन का शोर सुनाई देता है। हालांकि ये खामियां प्रोडक्शन मॉडल में दूर कर दी जाएंगी। 

1.5 लीटर टीएसआई वेरिएंट के मुकाबले हमने 1.0 लीटर टीएसआई वेरिएंट को चलाते हुए ये महसूस किया कि इसकी राइड क्वालिटी और केबिन इंसुलेशन ज्यादा बेहतर था। कुल मिलाकर इस एसयूवी कार के दोनों ही वेरिएंट दमदार थे जो भारतीय सड़कों की परिस्थितियों के हिसाब से तैयार किए गए हैं। 

निष्कर्ष 

कुशाक को ड्राइव करने के बाद हमें इतना तो मालूम चल ही गया कि ये एसयूवी फैमिली के हिसाब से काफी अच्छी साबित होने वाली है, वहीं इसकी ड्राइवेबिलिटी भी हमें काफी ज्यादा पसंद आई। हालांकि, हम उम्मीद करते हैं कि कंपनी इसके प्रोडक्शन मॉडल में केबिन इंसुलेशन को थोड़ा और बेहतर कर दे। वैसे स्कोडा अभी इस कार को एक फाइनल टच दे रही है जहां छोटी मोटी खामियों पर काम किया जा रहा है। 

मार्च 2021 तक इस एसयूवी से पूरी दुनिया के सामने पर्दा उठ जाएगा और ये मई या जून 2021 तक बिक्री के लिए उपलब्ध भी हो जाएगी। लॉन्च होने तक कुशाक को 95 प्रतिशत यहीं तैयार किया जाएगा। स्कोडा इस बात का भी सबसे ज्यादा ख्याल रख रही है कि भारतीय बाजार में बने रहने के लिए वो अपनी कारों की प्राइस कम कर सके।​ फिलहाल इसके प्रोटोटाइप मॉडल को ड्राइव करने के बाद हम इससे काफी प्रभावित हुए हैं और इसके बारे में ज्यादा जानने के लिए हमें मार्च तक इसका इंतजार करना होगा। स्कोडा के लिए ये एसयूवी कार भारत में काफी महत्वपूर्ण साबित होने वाली है।

 

स्कोडा कुशाक

वेरिएंट*एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
पेट्रोल (पेट्रोल)Rs. *

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?