• English
  • Login / Register

किया सेल्टोस Vs एमजी हेक्टर: जानिए स्पेस, कंफर्ट और फीचर्स के मोर्चे पर दोनों कारों में से कौन है बेहतर

Published On जून 01, 2020 By भानु for किया सेल्टोस 2019-2023

अपने फीचर्स, साइज और 'इंटरनेट इनसाइड' फीचर की बदलौत एमजी मोटर्स की भारत में पहली ​कार हेक्टर ने जून 2019 में यहां लॉन्च होते ही काफी लोकप्रियता हासिल की। मगर इस एसयूवी की लोकप्रियता पर पानी फेरने के लिए किया मोटर्स ने आकर्षक कीमत, प्रीमियम क्वालिटी और शानदार लुक्स वाली सेल्टोस एसयूवी को भारतीय बाजार में उतार दिया। हम इन दोनों कारों को चलाकर देख चुके हैं और इनका रिव्यू भी कर चुके हैं। यदि आप इन दोनों कारों में से कोई एक खरीदने का मन बना रहे हैं और कंफ्यूज्ड हैं तो यहां फीचर्स, स्पेस और कंफर्ट के मोर्चों पर हमने इन दोनों कारों का कंपेरिजन किया है। तो क्या रहे इस कंपेरिजन के नतीजे ये जानेंगे आगे:

 दोनों में से किस एसयूवी के आउटर लुक्स हैं सबसे बेस्ट?

इसमें कोई शक नहीं कि एमजी हेक्टर किया सेल्टोस से साइज़ में बड़ी है। सेल्टोस से हेक्टर 340 मिलीमीटर लंबी और 115 मिलीमीटर ऊंची है। हेक्टर में बड़ी सी ग्रिल दी गई है जिसके बीच में एमजी का बड़ा सा लोगो भी दिया गया है। इसका डिजाइन भी काफी आकर्षक है और फ्रंट व रियर पार्ट पर एलईडी लाइट्स दी गई है। इन सब एलिमेंट्स की बदौलत एमजी हेक्टर का रोड प्रजेंस काफी अच्छा हो जाता है। इसके एलईडी हेडलैंप्स और फॉगलैंप्स काफी आकर्षक लगते हैं और इसके स्टाइलिश टर्न इंडिकेटर्स भी दिए गए हैं। 

 

किया सेल्टोस

एमजी हेक्टर

लंबाई

4315 मिलीमीटर

4655 मिलीमीटर (+340 मिलीमीटर)

चौड़ाई

1800 मिलीमीटर

1835 मिलीमीटर (+35 मिलीमीटर)

ऊंचाई

1645 मिलीमीटर

1760 मिलीमीटर (+115 मिलीमीटर)

व्हीलबेस

2610 मिलीमीटर

2750 मिलीमीटर (+140 मिलीमीटर)

बूट स्पेस

433 लीटर

587 लीटर (+154 लीटर)

भले ही किया सेल्टोस, हेक्टर से साइज़ में छोटी क्यों ना हो, मगर ये इससे ज्यादा स्टाइलिश एसयूवी है। इसकी बॉडी में हर तरफ दी गई शार्प लाइंस, शानदार अलॉय व्हील और इसका फ्रंट किसी का भी ध्यान अपनी ओर खींचने के लिए काफी है। इसके हेडलैंप में ग्रिल तक जाते हुए डेटाइम रनिंग लैंप का फीचर दिया गया है। हेडलैंप के ठीक नीचे इंडिकेटर दिए गए हैं, वहीं इसके 'आइस क्यूब' जैसे फॉगलैंप काफी आकर्षक लगते हैं। हालांकि इसकी ग्रिल में डिटेलिंग के साथ क्रोम का ज्यादा इस्तेमाल किया गया है। इसके टेललैंप्स में भी एलईडी एलिमेंट्स का इस्तेमाल किया गया है।


  कुल मिलाकर जहां एमजी हेक्टर अपनी शानदार रोड प्रजेंस के साथ एक बड़ी सी एसयूवी लगती है तो वहीं किया सेल्टोस काफी स्टाइलिश लगती है जिसका लुक युवाओं को काफी पसंद आता है। 

दोनों कारों में से किसका केबिन है ज्यादा आकर्षक?

हेक्टर के केबिन में सबसे आकर्षक चीज इसमें दी गई 10.4 इंच टचस्क्रीन है। इसके डैशबोर्ड पर अच्छी क्वालिटी के मैटेरियल का इस्तेमाल किया गया है। इसकी सीटों पर ब्लैक लैदर चढ़ा हुआ है, वहीं स्टीयरिंग व्हील पर सॉफ्ट लैदर का इस्तेमाल किया गया है। साथ ही डैशबोर्ड पर भी कुछ जगह लैदर का इस्तेमाल किया गया है। स्टोरेज स्पेस के नाम पर बस इसमें दो कप होल्डर और डोर पैकेट्स दिए गए हैं। 

दूसरी तरफ किया सेल्टोस के केबिन में दाखिल होते ही आपको एक अलग ही अहसास होगा। इसमें फ्लैट बॉटम स्टीयरिंग व्हील दिया गया है और सेंटर लेआउट थोड़ा ड्राइवर की तरफ झुका हुआ है। दोनों एसयूवी में सॉफ्ट टच प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं किया गया है, मगर यहां किया सेल्टोस का केबिन एक्सपीरियंस ज्यादा प्रीमियम अहसास कराता है। उदाहरण के तौर पर इसमें स्पीकर की हाउसिंग पर फंकी सा कवर दिया गया है, सीटें वेंटिलेटेड हैं, फोन को भी ठंडा रखने के लिए वायरलैस चार्जर के लिए अपना एक एसी वेंट दिया गया है और टचस्क्रीन को आसानी से ऑपरेट करने के लिए पामरेस्ट दिया गया है। इसके अलावा इस कार में म्यूजिक लिंक्ड मूड लाइटिंग, हेडअप डिस्प्ले और एमआईडी स्क्रीन दी गई है। 

कुल मिलाकर, भले ही आपको सिंप्लिसिटी पंसद ​हो या टेक्नोलॉजी से लैस फीचर्स, आपको किया सेल्टोस का केबिन ज्यादा पसंद आएगा। 


 अंदर से कौनसी परफैक्ट एसयूवी नजर आती है ?

लुक्स और केबिन एक्सपीरियंस के मोर्चे पर एमजी हेक्टर एक पारंपरिक एसयूवी नजर आती है। इसमें ना सिर्फ आपको ऊंची ​सिटिंग मिलती है, बल्कि चौड़ा केबिन ये बताने के लिए काफी है कि ये सेल्टोस से ज्यादा बड़ी है। राइड क्वालिटी के मोर्चे पर भी किया सेल्टोस के आगे एमजी हेक्टर एक परफैक्ट एसयूवी नजर आती है। वहीं सेल्टोस इसके आगे ज्यादा कॉम्पैक्ट और हैचबैक टाइप कार नजर आती है। सेल्टोस में आपको लो सीटिंग पोजिशन मिलती है जिससे आपको किसी छोटी कार में बैठने जैसा अहसास होता है। यदि आपको सही मायनों में एक एसयूवी कार में सवार होने का एक्सपीरियंस चाहिए तो आपके लिए हेक्टर बेस्ट रहेगी। 

दोनों में से कौनसी एसयूवी है फीचर लोडेड?

एमजी हेक्टर में सेंटर स्क्रीन के तौर पर 10.4 इंच की डिस्प्ले दी गई है जो कार के काफी सारे फंक्शन को कंट्रोल करने के भी काम आती है। इसमें एक्यूवैदर, मीडिया, रेडियो, क्लाइमेट कंट्रोल, वेंट्स कंट्रोल, टॉम टॉम नेविगेशन और प्रीमियम अकाउंट वाले गाना.कॉम की एप्किलकेशन को कंट्रोल किया जा सकता है। हालांकि, इसकी टचस्क्र्रीन को इस्तेमाल करते वक्त ऐसा लगता है कि आप पुराने स्मार्टफोन में कोई हाई ग्राफिक वाली एप्लिकेशन इस्तेमाल कर रहे हो। 

क्लाइमेट कंट्रोल के लिए इसमें बटन भी नहीं दिए गए हैं। इसकी सेटिंग बदलने के लिए आपको या तो टचस्क्रीन का इस्तेमाल करना पड़ेगा या फिर वॉइस कमांड देना पड़ता है। यदि इसमें वॉल्यूम कंट्रोल की जगह फैन की स्पीड कम ज्यादा करने के लिए कंट्रोल दे दिया जाता तो शायद बेहतर होता। कुल मिलाकर दिखने में इसकी स्क्रीन शानदार लगती है, मगर इससे जुड़े फीचर्स को कंट्रोल करना थोड़ा मुश्किल रहता है। 

किया सेल्टोस में 10.2 इंच की टचस्क्रीन दी गई है जिसकी ब्राइटनैस थोड़ी कम लगती है। इसकी होम स्क्रीन पर काफी सारी इंफॉर्मेशन दिखती है। यह सिस्टम एपल कारप्ले और एंड्रॉयड ऑटो कनेक्टिविटी से लैस है। दूसरी तरफ हेक्टर में इंफोटेनमेंट स्क्रीन डैशबोर्ड के सेंटर में दी गई है और इसका भी सेटअप एंड्रॉयड ऑटो और एपल कारप्ले कनेक्टिविटी से लैस है। सेल्टोस की स्क्रीन में आपको एयर प्योरिफायर, परफ्यूम सेटिंग, हेडअप डिस्प्ले को कंट्रोल करने की सुविधा मिलती है। इसका 360 डिग्री कैमरा भी इस्तेमाल करने के लिहाज से काफी अच्छा है। 

किस गाड़ी की ड्राइवर इंफॉर्मेशन डिस्प्ले है ज्यादा अच्छी?

किया सेल्टोस

किया सेल्टोस में 7 इंच की एमआईडी स्क्रीन दी गई है, जिसकी डिस्प्ले काफी अच्छी, ब्राइट और बेहतर ग्राफिक से लैस है। इसमें दोनों ओआरवीएम पर लगे कैमरा से फीड भी आती है। इसमें दिए गए हेडअप डिस्प्ले पर ना सिर्फ आप गाड़ी की स्पीड देख सकते हैं, बल्कि ये नेविगेशन के जरिए डायरेक्शन भी बताती है। यह सिस्टम वॉइस कमांड से भी कंट्रोल होता है, मगर ये उतना परफैक्ट नहीं है। इसके अलावा इसमें वायरलैस चार्जर और इनबिल्ट कार परफ्यूम डिस्पेंसर के साथ एयर प्योरिफायर भी दिया गया है। 

किस गाड़ी का साउंड सिस्टम है ज्यादा अच्छा?

एमजी हेक्टर

इन दोनों कारों में 8 स्पीकर से लैस साउंड सिस्टम दिया गया है। जहां हेक्टर में इंफिनिटी यूनिट दी गई है तो वहीं सेल्टोस में बोस का साउंड सिस्टम दिया गया है। दोनों को कंपेयर करने के बाद निष्कर्ष यही निकला कि हेक्टर में दिया गया इंफिनिटी साउंड सिस्टम ज्यादा अच्छा है। यह काफी लाउड है और इसका बेस भी काफी अच्छा है। सेल्टोस में दिया गया बोस का साउंड सिस्टम भी अच्छा है, मगर उसमें वैसी बात नहीं है जो हेक्टर में नजर आती है। 

दोनों में ​से किस एसयूवी की कनेक्टेड का टेक्नोलॉजी है बेहतर ?

हेक्टर

दोनों कारों में कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी दी गई है, मगर हेक्टर में आप इससे सनरूफ और टेलगेट को खोलने बंद करने जैसे काम भी कर सकते हैं। 

कौनसी एसयूवी में है ज्यादा यूनीक फीचर्स ?

सेल्टोस 


किया सेल्टोस

एमजी हेक्टर

8 इंच हेडअप डिस्प्ले

गाना, एक्यूवैदर एप्स

एलईडी साउंड मूड लाइट्स

ड्यूल पेन पैनोरमिक सनरूफ

ऑटो डिमिंग आईआरवीएम

4-वे पावर एडजस्टेबल को ड्राइवर सीट

यूवी कट ग्लास फ्रंट और साइड्स

पावर्ड टेलगेट

एयर प्योरिफायर, परफ्यूम डिफ्यूज़र

विंडो डाउन करने के लिए रिमोट की

वायरलैस चार्जर

कॉर्नरिंग फ्रंट फॉगलैंप्स

वेंटिलेटेड फ्रंट सीट्स

 

2019 Kia Seltos First Drive Review: Diesel & Petrol

किसकी सनरूफ है ज्यादा अच्छी ?

हेक्टर

2019 Kia Seltos First Drive Review: Diesel & Petrol

एमजी हेक्टर में बड़ी सनरूफ दी गई है। ये रियर पैसेंजर तक पहुंचती है और पूरा खुलती भी है। सनरूफ कवर के रूप में इसमें काफी पतली परत दी गई है जिससे कार के केबिन में सूरज की रोशनी ज्यादा पहुंचती है और कार का केबिन गर्म होने के भी चांस रहते हैं। सिटी में तो ठीक है, मगर आप किसी लंबी दूरी की यात्रा कर रहे हों और तब गर्मियों का मौसम चल रहा हो तो आपको सनरूफ दिक्कत दे सकती है। हालांकि, इसके उलट बारिश या फिर सर्दी में आप बाहर के मौसम का मजा ज्यादा अच्छे से ले सकते हैं। 

दोनों में से किसकी सीट है ज्यादा कंफर्टेबल?

किया सेल्टोस

सेल्टोस की सीटें ज्यादा कंफर्टेबल हैं। 4 लोगों के हिसाब से इसमें अच्छा सपोर्ट भी मिलता है और चारों पैसेंजर कंफर्टबेल होकर बैठ सकते हैं। हालांकि, लोगों के हिसाब से हेक्टर में ज्यादा जगह मिलती है। इसके अलावा हेक्टर में सीटों की कुशनिंग भी काफी अच्छी है और राइड क्वालिटी भी काफी कंफर्टेबल है। हेक्टर की विंडोज़ भी काफी बड़ी है और बड़ी सनरूफ होने की वजह से इसमें पीछे की सीट पर बैठने का एक्सपीरियंस भी अच्छा रहता है। मगर, सेल्टोस में आपको रियर सीट पर बैठकर अच्छा अंडर थाई सपोर्ट मिलता है और इसमें सनब्लाइंड का फीचर भी दिया गया है। यदि आपकी फैमिली में 5 मेंबर हैं और आप अक्सर लंबी दूरी की यात्राएं करते हैं तो हम आपको हेक्टर लेने की सलाह देंगे। 

भारतीय सड़कों के हिसाब से कौनसी एसयूवी है ज्यादा बेहतर ?

हेक्टर

एमजी हेक्टर में सॉफ्ट सस्पेंशन सेटअप दिया गया है जो सेल्टोस के कंपेरिजन में बदहाल सड़कों और गड्ढों से आने वाले झटकों को आराम से हैंडल कर लेते हैं। यहां तक कि हाईवे पर भी किया सेल्टोस के सस्पेंशन थोड़े आवाज करते हैं। हालांकि, कोई गड्ढा आ जाने पर हेक्टर के सस्पेंशन दोबारा सैटल होने में थोड़ा समय लगाते हैं। 

इनमें से किस एसयूवी में मिलता है अच्छा बूटस्पेस ?

हेक्टर

किया सेल्टोस के मुकाबले हेक्टर में ज्यादा बूटस्पेस मिलता है। जहां सेल्टोस में 433 लीटर का बूटस्पेस मिलता है तो वहीं हेक्टर में 587 लीटर का बूटस्पेस मिलता है जो सेल्टोस के मुकाबले 154 लीटर ज्यादा है। इस लिहाज से आप हेक्टर में 1 बड़ा और 2 छोटे बैग रख सकते हैं। हेक्टर में लोडिंग लिप थोड़ी ऊंची है, जिसकी वजह से भारी बैग उठाते वक्त आपको कुछ परेशानी हो सकती है। 

इस कंपेरिजन में कौनसी कार साबित होती है बेस्ट ?

सेल्टोस

वैसे तो फीचर, स्पेस और कंफर्ट के मोर्चे पर दोनों कारें ही एक-दूसरे से कम नहीं है। मगर, यहां इस कंपेरिजन में सेल्टोस को बेस्ट इसलिए बताया है क्योंकि इसमें हेक्टर से थोड़े अच्छे फीचर्स दिए गए हैं। जहां एक तरफ हेक्टर में आपको बड़ी सनरूफ दी गई है और इस कार की लुकिंग भी काफी अच्छी है तो वहीं किया सेल्टोस में अच्छी डिजाइन वाली टचस्क्रीन, वायरलैस चार्जिंग और कूल्ड सीट्स दी गई हैं जो रोजाना इस्तेमाल करने के हिसाब से काफी अच्छी है।

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

×
We need your सिटी to customize your experience