फोर्ड मस्टैंग फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On फरवरी 27, 2020 By भानु for फोर्ड मस्टैंग

भारत में किसी स्पोर्ट्स/परफॉर्मेंस बेस्ड या सुपरकार की जब भी बात आती है तो सबसे पहले मन में स्पीड और एक्सलरेशन का रोमांचित कर देने वाला ख्याल आता है। साथ ही ऐसी कारों की प्राइस के बारे में जानकर भी अच्छे अच्छों के होश उड़ जाते हैं। हालांकि, बड़ा सवाल यह उठता है कि क्या ऐसी कारों को भारतीय सड़कों पर चलाया जा सकता है? चलिए बात करते हैं ऐसी ही एक कार फोर्ड मस्टैंग की जो अमेरिका में इतनी बिकती है जितनी की भारत में पॉपुलर सेडान होंडा सिटी भी नहीं बिकती। 

फोर्ड मस्टैंग एक स्टाइलिश सेडान होने के साथ-साथ एक परफॉर्मेंस बेस्ड कार है जिसे रोज़ाना इस्तेमाल किया जा सकता है। हमने इस कार के साथ पूरा हफ्ता गुज़ारा जहां हम इसे फैमिली रोड ट्रिप पर भी लेकर गए, कच्ची सड़कों पर भी चलाया और सिटी के भारी भरकम ट्रैफिक में भी आज़माया। 

फोर्ड मस्टैंग भारत में पावरफुल वी8 इंजन के साथ आने वाली सबसे अफोर्डेबल कार है। तो इस कार में और क्या है खास, जानेंगे इस एक्सपर्ट रिव्यू के ज़रिए:- 

एक्सटीरियर

अब तक फोर्ड मस्टैंग के 6 जनरेशन मॉडल बाज़ार में आ चुके हैं। हालांकि, फोर्ड ने इसे भारत में लॉन्च करते-करते काफी समय लगाया। 

फोर्ड मस्टैंग दिखने में काफी दमदार है। यह 5 मीटर लंबी होने के साथ फोर्ड एंडेवर से ज्यादा चौड़ी भी है। इसमें सबसे ज्यादा आकर्षक चीज़ इसका रोड प्रजेंस है और ये अपने आसपास लोगों की भीड़ जुटाने के पूरी तरह काबिल है। 

इसकी फ्रंट ग्रिल काफी चौड़ी है जो इसे एक दमदार लुक देती है। साथ ही इसमें 19 इंच के व्हील और पतले हेडलैंप दिए गए हैं जो काफी स्टाइलिश लगते हैं। मस्टैंग में रियर ट्राइ स्लैट एलईडी टेललाइट्स भी दी गई है जो रात में काफी शानदार नज़र आती हैं। 

साइज कंपेरिज़न

 

फोर्ड मस्टैंग

ऑडी टीटी

लंबाई 

4784 मिलीमीटर

4177 मिलीमीटर

चौड़ाई

2080 मिलीमीटर

1966 मिलीमीटर

ऊंचाई

1391 मिलीमीटर

1353 मिलीमीटर

ग्राउंड क्लीयरेंस

137 मिलीमीटर

135 मिलीमीटर

व्हीलबेस

2720 मिलीमीटर

2505 मिलीमीटर

कर्ब वेट (किलोग्राम)

-

1410किलोग्राम

इंटीरियर 

इस कार की ड्राइविंग सीट पर बैठते ही सामने इसका बड़ा-सा बोनट नज़र आता है जो कि आज कल की कारों में देखने को भी नहीं मिलता है। कार की ड्राइविंग सीट पर बैठकर बाहर का नज़ारा साफ-साफ और पूरा दिखाई देता है जो ड्राइविंग के लिहाज़ से काफी अच्छा माना जाता है।फोर्ड मस्टैंग का साइज़ इतना बड़ा है कि इसके अंदर अच्छी कद काठी वाले पैसेंजर बड़े आराम से बैठ सकते हैं। यहां तक की 6 फीट से ज्यादा लंबाई वाला पैसेंजर इसकी बड़ी सीटों पर कंफर्टेबल होकर बैठ सकता है। वैसे तो यह एक 4-सीटर कार है मगर इसकी रियर सीट पर छोटे बच्चे को ही बैठाया जा सकता है। कार की बैक सीट पर लेगरूम और हैडरूम फ्रंट सीट जितना अच्छा नहीं है। यहां एक औसत लंबाई वाले पैसेंजर का सिर कार की विंडशील्ड को छूता है। स्लोपी रूफलाइन और दरवाज़े की चौड़ाई कम होने के चलते भी इसकी ​रियर सीट पर बैठना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। 

फोर्ड मस्टैंग में राउंड हॉर्न पैड के साथ थ्री स्पोक स्टीयरिंग, ट्विन काउल डैशबोर्ड और रेट्रो स्टाइल्ड टॉगल स्विच दिए गए हैं जिनसे अलग-अलग ड्राइविंग मोड्स: नॉर्मल, स्पोर्ट प्लस, ट्रैक और स्नो वैट, स्टीयरिंग मोड्स: नॉर्मल, कंफर्ट एवं स्पोर्ट और ट्रैक्शन कंट्रोल जैसे फंक्शन को ऑपरेट किया जा सकता है। 

इन विंटेज एलिमेंट्स के अलावा नई मस्टैंग में इलेक्ट्रिकली एडजस्टेबल सीट्स, वन टच अप/डाउन विंडो, क्रूज कंट्रोल, 2-ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल और टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम जैसे मॉर्डन फीचर्स दिए गए हैं। हालांकि, ये सारे फीचर्स सस्ते तो नहीं लगते, मगर इन्हें प्रीमियम भी नहीं कहा जा सकता है। इसके इंटीरियर में काफी ज्यादा हार्ड प्लास्टिक ट्रिम का इस्तेमाल किया गया है। कुल मिलाकर जर्मनी में बनी इसी प्राइस रेंज वाली दूसरी लग्जरी सेडान के मुकाबले फोर्ड मस्टैंग की फिट और फिनिशिंग उतनी अच्छी नहीं लगती है। 

परफॉर्मेंस 

फोर्ड मस्टैंग के इंटरनेशनल वर्जन में काफी सारे इंजन ऑप्शंस दिए गए हैं। मगर भारत में यह 5.0 लीटर वी8 इंजन में ही उपलब्ध है। एमिशन नॉर्म्स और नॉइस रेग्यूलेशन के चलते इंजन के शोर को दबा दिया गया है और यह बात परफॉर्मेंस बेस्ड कारें चलाने वालों को बिल्कुल पसंद नहीं आती है। 

फोर्ड मस्टैंग का पावरफुल इंजन 515 एनएम का टॉर्क और 401 पीएस की पावर जनरेट करने में सक्षम है जो कि काफी अच्छा आउटपुट है। इसे 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पकड़ने में 5.36 सेकंड का समय लगता है जो कि ठीक-ठाक कहा जा सकता है। 

मस्टैंग के इंडियन वर्जन को डी-ट्यून किया गया है ऐसे में इसके लिए कोई स्पेशल फ्यूल की आवश्यकता नहीं है और रेग्यूलर पेट्रोल पर भी ये आराम से चल सकती है। ऐसे में इंटरनेशनल वर्जन के मुकाबले इंडियन मस्टैंग कम पावरफुल साबित होती है। 

फोर्ड मस्टैंग में 6-स्पीड ड्यूल क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स दिया गया है जो इस्तेमाल करने में काफी अच्छा है। हालांकि, जब आप इस कार को स्पोर्टी मोड पर चलाना शुरू करते हैं तो इसके गियरबॉक्स से रिस्पॉन्स ठीक नहीं मिलता है। ऐसे में कभी-कभी इसमें मैनुअल गियरबॉक्स की कमी महसूस होती है। हालांकि, हाईवे क्रूजिंग के लिहाज से दूसरी परफॉर्मेंस बेस्ड कारों की तरह इसका गियरबॉक्स कंफर्टेबल ही लगता है। 

परफॉर्मेंस कंपेरिज़न (पेट्रोल)

 

फोर्ड मस्टैंग

ऑडी टीटी

पावर

395बीएचपी@6500+-50आरपीएम

226.6बीएचपी@4500-6200आरपीएम

टॉर्क (एनएम)

515एनएम@4250+-50आरपीएम

370एनएम@1600-4300आरपीएम

इंजन (सीसी)

4951 सीसी

1984 सीसी

गियरबॉक्स

ऑटोमैटिक

ऑटोमैटिक

टॉप स्पीड (किलोमीटर/घंटा)

237.4 किलोमीटर/घंटा

250 किलोमीटर/घंटा

0-100 एक्सलरेशन (सेकंड)

5.2 सेकंड

5.3 सेकंड

कर्ब वेट (किलोग्राम)

-

1410किलोग्राम

माइलेज (एआरएआई)

13.0 किलोमीटर/लीटर

14.33 किलोमीटर/लीटर

राइड और हैंडलिंग 

फोर्ड मस्टैंग की राइड और हैंडलिंग काफी कंफर्टेबल है। भारत में इस कार को नेशनल हाईवे की सपाट सड़कों से लेकर कम चौड़ी और उबड़-खाबड़ सड़कों पर करीब 1000 किलोमीटर चलाने के बाद हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि इस लग्जरी सेडान को भारत जैसे देश में रोजाना के हिसाब से भी चलाया जा सकता है। इसमें 137 मिलीमीटर का ग्राउंड क्लीयरेंस दिया गया है जो हमारे देश के हिसाब से ज्यादा नहीं है मगर, फिर भी हमारे टेस्ट में जब यह ऊंचे स्पीड ब्रेकर्स के ऊपर से गुज़री तो इसके निचले हिस्से को जरा भी नुकसान नहीं पहुंचा। 

मस्टैंग के फ्यूल टैंक की क्षमता 60.9 लीटर है। सिटी में यह 4.6 किलोमीटर प्रति लीटर माइलेज देने में सक्षम है तो वहीं हाईवे पर यह 7.46 किलोमीटर प्रति लीटर का माइलेज देती है। 

मस्टैंग के स्टीयरिंग व्हील का वज़न ना तो ज्यादा भारी है और ना ही ज्यादा हल्का है। ऐसे में मोड़ पर भी यह कार बड़े आराम से गुज़र जाती है। हालांकि, यह बीएमडब्ल्यू जेड4, ऑडी टीटी और पोर्श केमन के स्टीयरिंग व्हील जितना फुर्तिला भी नहीं है। ऐसे में तेज़ स्पीड पर कॉर्नर से गुज़रते वक्त आप कार के वजन को महसूस कर सकते हैं। 

सेफ्टी

सेफ्टी के लिहाज़ से फोर्ड मस्टैंग में ड्यूल फ्रंट, साइड और कर्टेन एयरबैग, एबीएस, रियर सीट पर आईएसओफिक्स चाइल्ड सीट माउंट, रियर पार्किंग सेंसर और रिवर्स कैमरा जैसे फीचर्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं।

नई कूपे कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर कूपे कारें

×
We need your सिटी to customize your experience