• लॉगिन / रजिस्टर

टाटा हैरियर ऑटोमैटिक : फर्स्ट ड्राइव रिव्यू

Published On mar 24, 2020 By bhanu for टाटा हैरियर

टाटा मोटर्स ने हैरियर एसयूवी में ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का ऑप्शन दे दिया है। साथ ही कंपनी ने अपनी इस एसयूवी में थोड़े और फीचर्स जोड़ते हुए कुछ बदलाव भी किए हैं। तो क्या कुछ बदला हैरियर में ये जानेंगे इस फर्स्ट ड्राइव रिव्यू में:-

क्या कुछ बदला एक्सटीरियर में 

हैरियर में 17 इंच के अलॉय व्हील दे दिए गए हैं जिससे इसका यूनीक डिज़ाइन पहले से और भी ज्यादा आकर्षक लगने लगा है। इसके साथ ही कंपनी ने इसमें छोटे-मोटे बदलाव भी किए हैं। अब टाटा हैरियर रेड कलर के ऑप्शन में भी उपलब्ध है और इसके फ्रंट और रियर बंपर पर क्रोम का इस्तेमाल भी किया गया है। हालांकि, क्रोम हाइलाटिंग केवल एसेसरीज पैक के रूप में ही उपलब्ध है। टाटा हैरियर के पिछले मॉडल में दिए गए आउटसाइड रियरव्यू मिरर को लेकर ग्राहकों ने फीडबैक दिया था कि ये साइज़ में कुछ ज्यादा ही बड़े हैं। ऐसे में कंपनी ने इनमें सुधार करते हुए इनके डिज़ाइन को बदलकर इन्हें छोटा कर दिया है। 

टाटा हैरियर में सबसे बड़ा बदलाव इसके केबिन में किया गया है। कंपनी ने हैरियर को अपडेट देते हुए इसमें फुल साइज़ पैनोरमिक सनरूफ का फीचर दे दिया है। हालांकि, ये फीचर केवल इस कार के टॉप वेरिएंट एक्सज़ेड+ में ही दिया गया है। इसकी बड़ी सी सनरूफ में निफ्टी नाम का रेन सेंसिंग क्लोज़ फंक्शन दिया गया है। यदि आप गलती से सनरूफ को बिना बंद किए कार से निकल जाते हैं तो रिमोट-की (Remote Key) के माध्यम से आप इसे बंद कर सकते हैं। हालांकि टाटा को इसमें सनरूफ के साथ कार की खिड़कियों को खोलकर कार के अंदर मौजूद गर्म हवा को निकालने के लिए ग्लोबल ओपन फंक्शन भी देना चाहिए था। 

.

टाटा हैरियर में अब ड्राइवर की सुविधा के लिए 6 तरीकों से एडजस्ट हो सकने वाली पावर्ड ड्राइवर सीट का फीचर भी दे दिया गया है। हालांकि लंबर सपोर्ट अब भी मैनुअली एडजस्ट करना पड़ता है। इसके अलावा नई हैरियर में ऑटो डिमिंग आईआरवीएम का फीचर भी दिया गया है। इस नई एसयूवी में फ्रंट पर दिए गए यूएसबी और ऑक्स पोर्ट्स तक पैसेंजर की पहुंच को थोड़ा बेहतर कर दिया गया है वहीं, सेंट्रल आर्मरेस्ट पर एक अतिरिक्त यूएसबी पोर्ट भी दे दिया गया है। कार में मौजूद सभी यूएसबी पोर्ट्स क्विकचार्ज 3.0 को सपोर्ट करते हैं। 

ऊपर बताए गए बदलावों के अलावा हैरियर के केबिन में इसके अलावा और कुछ भी नहीं बदला है। इसमें पहले की तरह जेबीएल साउंड सिस्टम से लैस 8.8 इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट कुछ नई थीम्स के साथ दिया गया है। इसके अलावा इसमें इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर में 7.0 इंच की स्क्रीन, क्रूज़ कंट्रोल और लैदर अपहोल्स्ट्री जैसे फीचर्स मौजूद हैं। हैरियर के टॉप वेरिएंट की कीमत 20 लाख रुपये से ऊपर है, ऐसे में इस प्राइस पॉइन्ट को देखते हुए गाड़ी में टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम, रियर सन ब्लाइंड्स, पावर्ड टेलगेट और एंबिएंट लाइटिंग जैसे फीचर की कमी खलती है। बता दें कि टायर प्रेशर मॉनिटरिंग का फीचर टाटा नेक्सन तक में दिया गया है। 

कंपनी ने इसकी केबिन क्वालिटी में कोई बदलाव नहीं किया है पर उसे लेकर ग्राहकों में कोई शिकायत भी नहीं है। फिर भी इसमें थोड़ी बहुत खामियां अब भी रह गईं हैं। कार का सेंट्रल कंसोल अब भी ड्राइवर के बाएं घुटने से टकराता है और इसका फ्रंट सेंट्रल आर्मरेस्ट काफी पीछे है, वहीं रिवर्स पार्किंग कैमरा के वीडियो फीडबैक की क्वालिटी उतनी खास नहीं लगती है। हैरियर का केबिन और बूट अब भी काफी स्पेशियस है। इसलिए ये अपने सेगमेंट की सबसे बेस्ट 5-सीटर एसयूवी में से एक है। 

परफॉर्मेंस

हैरियर 2020 के इंजन में कंपनी ने महत्वपूर्ण बदलाव किया है। अब इसमें फिएट वाला 2.0 लीटर डीज़ल इंजन का 170 पीएस वर्जन दिया गया है। ऐसे में अब यह पहले से 30 पीएस ज्यादा पावर देगी। हालांकि, इसका टॉर्क फिगर पहले की तरह 350 एनएम ही रहेगा। टाटा मोटर्स ने हैरियर के मैनुअल और ऑटोमैटिक वर्जन को लेकर क्रमश: 16.35 किमी/लीटर एवं 14.63 किमी/लीटर माइलेज देने का दावा किया है। पहले केवल यह मैनुअल वेरिएंट में ही उपलब्ध थी जिसका माइलेज फिगर 16.70 किमी/लीटर था।

चूंकि अब हैरियर में बीएस6 इंजन दे दिया गया है, ऐसे में इस इंजन के साथ 15 लीटर का एडब्लू टैंक भी दिया गया है। बाकी बड़ी डीज़ल एसयूवी की तरह इसकी फिलर कैप को फ्यूल कैप के बगल में पोजिशन ​करने के बजाए बूट फ्लोर के नीचे पोजिशन किया गया है। इस एडब्लू टैंक में दिए गए यूरिया सॉल्यूशन को एमिशन चैक के लिए 10,000 से 15000 किलोमीटर गाड़ी चलाने के बाद बदलवाना ज़रूरी है। इस टैंक को रीफिल करवाने में ज्यादा से ज्यादा 1000 रुपये तक का खर्चा आता है। यदि कार में यह डीज़ल एग्जॉस्ट फ्यूल खत्म हो जाता है तो आपकी कार शुरू ही नहीं होगी क्योंकि तब डीज़ल इंजन द्वारा वायु प्रदुषण को कम करने के लिए इसमें जरूरी फ्ल्यूड नहीं होगा। हालांकि, जब इसमें फ्ल्यूड की मात्रा 3 लीटर तक पहुंच जाएगी तो आपकी हैरियर आपको यह जानकारी दे देगी। 


टाटा हैरियर को अपेडट देने के साथ कंपनी ने दावा किया है कि इसके 4 सिलेंडर इंजन के नॉइस और वाइब्रेशन लेवल को भी कम कर दिया गया है। लेकिन, हमें इसमें कुछ खास फ​​र्क नज़र नहीं आया है। 3000 आरपीएम के बाद इसका इंजन अब भी आवाज़ करता है। वहीं, कार के न्यूट्रल खड़े रहने पर स्टीयरिंग व्हील और गियर लिवर में अब भी वाइब्रेशन को महसूस किया जा सकता है। जैसे ही आप न्यूट्रल गियर से स्पोर्ट्स मोड पर फुल थ्रॉटल देते हैं तो नए इंजन में मिलने वाली 30 पीएस की एक्सट्रा पावर तुरंत नहीं मिलती है। बीएस6 हैरियर का इंजन सिटी में काफी स्मूद रहता है। इसके साइज़ के हिसाब से इसके क्लच का वज़न भी सही लगता है। इसके गियर शिफ्टस भी काफी सॉफ्ट हो गए हैं। 

सिटी और हाईवे पर इसके इंजन के साथ दिया गया 6-स्पीड टॉर्क कन्वर्टर ऑटोमैटिक काफी स्मूद लगता है। 

हैरियर में ईको, सिटी और स्पोर्ट ड्राइविंग मोड्स दिए गए हैं जो कि गियरबॉक्स के रिस्पॉन्स को बदलते रहते हैं। हमें हैरियर ऑटोमैटिक को ईको मोड पर चलाने में काफी अच्छा लगा। इस मोड पर पावर डिलीवरी काफी स्मूद और लगातार मिलती है। इसमें पैडल शिफ्टर्स का फीचर नहीं दिया गया है इसलिए आपको इसे मैनुअली परफॉर्म करना पड़ता है। एक अच्छी बात यह है कि स्पोर्ट्स मोड पर चलाते हए आपको ओवरटेकिंग के लिए कोई तैयारी नहीं करनी पड़ती है। 

कंपनी का कहना है कि बीएस6 हैरियर के स्टीयरिंग में भी मामूली सा बदलाव किया गया है जो कि महसूस भी होता है। हालांकि, हाई स्पीड पर कार ड्राइव करते वक्त इसमें थोड़े भारीपन की कमी महसूस होती है फिर भी हाईवे पर हैरियर को ड्राइव करना अब भी रोमांचक लगता है। इसके सस्पेंशन भी खराब सड़कों और गड्ढों से आने वाले झटकों से बखूबी निपटते हैं और कार के अंदर बैठे पैसेंजर्स को इस बारे में बिल्कुल पता नहीं चलने देते हैं। 

टाटा हैरियर में सेफ्टी फीचर्स की कोई कमी नहीं है। इसके टॉप वेरिएंट एक्सजेड+ में हिल डिसेंट कंट्रोल और 6 एयरबैग जैसे फीचर्स दिए गए हैं। बता दें कि हैरियर में ड्यूल फ्रंट एयरबैग और एबीएस एवं ईबीडी समेत ईएसपी, ट्रैक्शन कंट्रोल, हिल होल्ड और रोल ओवर मिटिगेशन जैसे फीचर्स स्टैंडर्ड दिए गए हैं। 

अपडेट के बाद कीमत भी बढ़ी

टाटा हैरियर बीएस6 की प्राइस 13.69 लाख रुपये से लेकर, 20.25 लाख रुपये रखी गई है। ऐसे में पहले के मुकाबले इसकी प्राइस में 25,000 रुपये से लेकर 40,000 रुपये का इजाफा हो गया है। कार में दिए गए फीचर्स और अपडेट्स को देखते हुए हमारा मानना है कि कंपनी इसके लिए वाजिब दाम वसूल रही है। 


पहले से ज्यादा पावरफुल इंजन और सनरूफ जैसा फील गुड फीचर होने से हैरियर की 20 लाख रुपये की प्राइसिंग वाजिब लगती है। पिछले कुछ सालों से टाटा अपनी कारों की कीमत 1 लाख रुपये तक बढ़ा रही है। टाटा हैरियर के भी हर वेरिएंट की कीमत के बीच कम से कम 1 लाख रुपये का अंतर है जो कि कोई छोटी रकम नहीं है। 

कुल मिलाकर 2020 में टाटा हैरियर को मिले अपडेट के बाद यह पहले से एक बेहतर पैकेज के रूप में उपलब्ध है। एक दो चीज़ों को छोड़ दें तो इसमें अब वो हर चीज़ मौजूद है जो इस सेगमेंट की दूसरी कारों में भी दी गई है।

नई एसयूवी कारें

अपकमिंग कारें

पॉपुलर एसयूवी कारें

*Estimated Price New Delhi
×
आपका शहर कौन सा है?