• लॉगिन / रजिस्टर

टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक कार पर अब दिल्ली सरकार नहीं देगी सब्सिडी

प्रकाशित: मार्च 02, 2021 07:04 pm । सोनूटाटा नेक्सन ईवी

  • 2433 व्यूज़
  • Write a कमेंट

टाटा नेक्सन ईवी (tata nexon ev) भारत की लंबी रेंज वाली सबसे सस्ती इलेक्ट्रिक कार है। कंपनी के अनुसार फुल चार्ज में यह इलेक्ट्रिक गाड़ी 300 किलोमीटर से ज्यादा का सफर तय कर सकती है। हालांकि कई ग्राहकों ने शिकायत की है कि यह इतनी रेंज नहीं दे रही है, जिस पर एक्शन लेते हुए दिल्ली सरकार ने अब नेक्सन इलेक्ट्रिक को सब्सिडी स्कीम से बाहर कर दिया है।

दिल्ली के ट्रांसपोर्ट मिनिस्टर कैलाश गहलोत ने कहा कि ‘दिल्ली सरकार ने एक इलेक्ट्रिक कार मॉडल को सब्सिडी स्कीम से बाहर करने का निर्णय लिया है। इस पर आखिरी फैसला एक समिति लेगी। कई ग्राहकों ने इस इलेक्ट्रिक कार की रेंज को लेकर शिकायतें की हैं कि ये कंपनी द्वारा बताए जा रहे मापदंडो पर खरा नहीं उतर रही है। हम इलेक्ट्रिक कारों को सपोर्ट करते हैं लेकिन कंपनियों द्वारा गलत रेंज बताकर लोगों को अपनी ओर खींचना सही नहीं है।’

दिल्ली में सब्सिडी स्कीम के तहत प्रति केडब्ल्यूएच बैटरी कैपेसिटी पर सरकार 10,000 रुपये इंसेंटिव देती है। दिल्ली सरकार ने अगस्त 2020 में लागू हुई इस स्कीम के तहत पहले 1000 ग्राहकों को 1.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी देने की योजना बनाई थी। इस पॉलिसी के तहत इलेक्ट्रिक कार पर रोड टैक्स और रजिस्ट्रेशन फीस में भी छूट दी गई है। अब तक टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक कार को सब्सिडी स्कीम में लिस्ट किया गया था। इसमें 30.2केडब्ल्यूएच लिथियम आयन बैटरी पैक लगा है जिस पर पॉलिसी के अनुसार काफी छूट मिलती है। वर्तमान में नेक्सन इलेक्ट्रिक की प्राइस 13.99 लाख से 16.39 लाख रुपये (एक्स-शोरूम दिल्ली) के बीच है।

Tata Nexon EV: Real World Performance And Efficiency Numbers

नेक्सन इलेक्ट्रिक को लेकर कुछ लोगों ने शिकायतें की है कि यह कार फुल चार्ज में 200 किलोमीटर से ज्यादा की दूरी तय नहीं कर पा रही है जबकि कंपनी ने इसकी एआरएआई रेंज 312 किलोमीटर बताई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एआरएआई टेस्ट और रियर ड्राइविंग पेटर्न में काफी अंतर होता है जिसका असर कार के माइलेज पर देखने को मिलता है।

यह भी देखें: टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक Vs हुंडई कोना इलेक्ट्रिक

इस पर कंपनी की ओर से भी एक प्रतिक्रिया आई है जिसमें कहा गया है कि फेम इंडिया फेज-2 स्कीम के तहत कार की रेंज कम से कम 140 किलोमीटर होनी चाहिए और हमारी गाड़ी की परफॉर्मेंस और माइलेज इससे कहीं ज्यादा है। कंपनी ने कहा है कि नेक्सन इलेक्ट्रिक दिल्ली की ईवी पॉलिसी पर पूरी तरह से खरा उतरती है। 

कुछ लोगों को मानना है कि जिन लोगों ने नेक्सन को लेकर जो शिकायतें दर्ज कराई हैं उनकी कारों के हार्डवेयर में कुछ खराबी हो सकती है जिसके बारे में कंपनी को पड़ताल करनी चाहिए और उन्हें सही करना है।

Tata Nexon EV: Real World Performance And Efficiency Numbers

हाल ही में हमने भी टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक का रोड टेस्ट किया था जिसमें इस इलेक्ट्रिक एसयूवी की रेंज सिटी में 280 किलोमीटर से ज्यादा और हाईवे पर 211 किलोमीटर रही थी। सिटी में कार को बार-बार ब्रेक लगाने पड़ते हैं जिससे इसकी बैटरी चार्ज होती रहती है और गाड़ी की रेंज बढ़ जाती है। हाईवे और सिटी दोनों जगह की मिक्स रेंज देखें तो यह कंपनी के बताए आंकड़ों से थोड़ा पीछे रह जाती है।

इस पर आखिरी फैसला एक समिति लेगी जो शिकायत कर्ताओं के दावों और टाटा मोटर्स दोनों की बातों को ध्यान में रखेगी। जब तक समिति का आखिरी फैसला नहीं आता तब तक दिल्ली की इलेक्ट्रिक कार पॉलिसी के तहत ग्राहकों को नेक्सन ईवी पर सब्सिडी नहीं मिलेगी।

Tata Nexon EV: Real World Performance And Efficiency Numbers

टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक का जो यह मामला सामने आया है उससे उन कंपनियों को भी सबक मिलेगा जो जल्द ही भारत में इलेक्ट्रिक गाड़ियां उतारने वाली हैं। ऐसे में हो सकता है कि कंपनियां भारतीय सड़कों के हिसाब से इनका टेस्ट करके माइलेज बता सकती है जिससे कार का रियल माइलेज ज्यादा अलग नहीं होगा। अगर आपके पास भी टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक कार है तो कमेंट सेक्शन में आप अपने अनुभव हमारे साथ साझा कर सकते हैं।

यह भी देखें: टाटा नेक्सन इलेक्ट्रिक ऑन रोड प्राइस

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

टाटा नेक्सन ईवी पर अपना कमेंट लिखें

Read Full News

कंपेयर करने के लिए मिलती-जुलती कारें

एक्स-शोरूम कीमत नई दिल्ली
×
आपका शहर कौन सा है?