नई व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी से पुरानी कार के इंश्योरेंस प्रीमियम पर क्या पड़ेगा असर, जानिए ​कैसे

प्रकाशित: अक्टूबर 06, 2021 03:21 pm । sponsored

  • 75 व्यूज़
  • Write a कमेंट

भारत सरकार ने हाल ही में नई 'व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी' लॉन्च की है। इस पॉलिसी के अनुसार अब 10 साल से ज्यादा पुराने कमर्शियल और 15 साल से पुराने प्राइवेट व्हीकल को सड़क पर चलाने के लिए कॉम्प्रिहेंसिव ऑटोमेटेड फिटनेस टेस्ट पास करना जरूरी है। यदि कोई गाड़ी टेस्ट में फेल हो जाती है तो उसे पॉल्यूशन कंट्रोल और सुरक्षा को देखते हुए सड़क पर चलाने की अनुमति नहीं होगी। ऐसे वाहनों को डी-रजिस्टर कर दिया जाएगा और व्हीकल ओनर इन्हें स्क्रैप करवा सकेंगे। निजी वाहनों की टेस्टिंग जून 2024 से अनिवार्य होगी।

सरकार ऐसा क्यों कर रही है?

स्टडी से सुझाव मिले हैं कि पुराने व्हीकल्स में मॉडर्न कारों की तुलना में 10 से 12 प्रतिशत का प्रदूषण ज्यादा होता है। पुराने व्हीकल्स ना केवल ज्यादा खतरनाक होते हैं बल्कि उनके साथ टूटने-फूटने और दुर्घटनाओं का खतरा भी ज्यादा रहता है। वर्तमान में 70 लाख से अधिक पुराने व्हीकल्स सड़कों पर मौजूद हैं, यह नई पॉलिसी सभी के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकती है।

इसका आपके लिए क्या मतलब है?

यदि आपके पास कोई भी पुरानी फैमिली कार है तो ऐसे में आपको उसे रजिस्टर्ड ऑटोमेटेड व्हीकल इंस्पेक्शन सेंटर पर लेकर जाना होगा। वहां उस व्हीकल के कई सारे टेस्ट किए जाएंगे जिनमें इंजन की परफॉर्मेंस, ब्रेक्स की प्रभावशीलता आदि शामिल होगी। यदि आपकी कार टेस्ट में दो बार फेल हो जाती है तो आपको उसे 'गुडबाय' कहना पड़ेगा। 

आप क्या कर सकते हैं? 

सबसे पहले अपनी कार का बीमा करवा लें। भारत में कार को बिना इंश्योरेंस के चलाना एकदम अवैध है। जैसा कि हम रोज़ाना देखते हैं कि लोगों की लापरवाही के कारण कितनी घटनाएं होती हैं, ऐसे में अगर कार का इंश्योरेंस होता है तो आप बड़े खर्चे से बच सकते हैं। हादसे के दौरान चाहे आपकी कार गड्ढे में ही क्यों ना गिरी हो या फिर विंडशील्ड में एक साधारण दरार ही क्यों ना आई हो, इसका खर्च इंश्योरेंस कंपनी देगी। 

आपको किस प्रकार का बीमा लेना चाहिए?

भारत में दो प्रकार की कार बीमा पॉलिसी मौजूद है जिनमें थर्ड पार्टी इंश्योरेंस और कॉम्प्रिहेंसिव इंश्योरेंस शामिल है। थर्ड पार्टी इंश्योरेंस कानून द्वारा अनिवार्य है, यह आपको केवल कानूनी लायबिलिटी से ही बचाता है। इस इंश्योरेंस में आपको अपनी कार में हुए नुकसान का मुआवजा नहीं मिलता है।

वहीं,  कॉम्प्रिहेंसिव कार इंश्योरेंस पॉलिसी में थर्ड पार्टी लायबिलिटी और कार में हुआ डैमेज (एक्सीडेंट या चोरी समेत) दोनों कवर होता है। * स्टैंडर्ड टी एंड सी अप्लाई 

बीमा कहां से लें? 

आप घर बैठे ही कार इंश्योरेंस ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं।  साथ ही आप प्रीमियम का भुगतान भी घर बैठे कर सकते हैं और किसी भी ब्रोकर के बिना चंद मिनटों में अपनी पॉलिसी को रिन्यू करवा सकते हैं।

कितना भुगतान करना होगा?  

व्हीकल स्क्रैपेज पॉलिसी के चलते इंश्योरेंस प्रीमियम कम हो सकता है। वर्तमान में पुराने वाहनों का बीमा पूल में योगदान बहुत कम है और वह केवल थर्ड पार्टी इंश्योरेंस ही कैर्री करते हैं। वर्तमान में 140 परसेंट की रेट से क्लेम उठ रहे हैं, ऐसे में व्हीकल स्क्रैप पॉलिसी आ जाने के बाद इनकी रेट गिर जाएगी, वहीं प्रीमियम का अमाउंट भी कम हो जाएगा। 

पुराने वाहनों के स्क्रैप हो जाने से न केवल इन क्लेम में कमी आएगी, बल्कि कार बीमा की कीमतों पर भी दबाव कम हो जाएगा।

पुराने व्हीकल के इंश्योरेंस का क्या होगा? 

यदि आपके पास अपने वाहन को स्क्रैप करने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है तो ऐसे में आप जरूर अपने बीमाकर्ता को कॉल करना चाहेंगे। ऐसी स्थिति में इंश्योरेंस प्रीमियम को या तो बंद करा जा सकता है या फिर इसे आपके किसी अन्य वाहन में ट्रांसफर किया जा सकता है। इससे जुड़ी अधिक जानकारी के लिए कृपया आईआरडीएआई की ऑफिशियल वेबसाइट पर विज़िट करें।

मुझे बेस्ट डील कहां मिलेगी?  

बजाज एलायंज जनरल इंश्योरेंस में बेस्ट थर्ड पार्टी कार इंश्योरेंस और कॉम्प्रिहेंसिव इंश्योरेंस पैकेज मिलते हैं। कॉम्प्रिहेंसिव पॉलसी के साथ मिलने वाले कवरेज में ना सिर्फ आपकी सभी आवश्यकताओं की पूर्ति हो सकेगी बल्कि आपको ऐड-ऑन राइडर्स के रूप में कई अतिरिक्त सुविधाएं भी मिलेंगी। इनमें इंजन प्रोटेक्शन (ट्रेडिशनल पॉलिसी में कवर नहीं होता), पर्सनल बैगेज  इंश्योरेंस (चोरी की स्थिति में) और 24/7 स्पॉट असिस्टेंस सर्विस शामिल हैं। *स्टैंडर्ड टी एन्ड सी अप्लाई 

इसके बारे में ज्यादा जानने और बेस्ट डील प्राप्त करने के लिए बजाज एलायंज जनरल इंश्योरेंस की वेबसाइट पर विज़िट करें। इंश्योरेंस से जुड़े बेनिफिट्स, एक्सक्लूज़न, लिमिटेशन, नियमों और शर्तों के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया सेल्स ब्रोशर/ पॉलिसी को ध्यान से जरूर पढ़ लें।

द्वारा प्रकाशित
was this article helpful ?

0 out ऑफ 0 found this helpful

Write your कमेंट

Read Full News
×
We need your सिटी to customize your experience