मारूति अल्टो-800

` 2.6 - 4.0 Lac*
मारूति अल्टो-800 फोटोज
  • रंग (कलर्स)
  • +

मारूति अल्टो-800 मॉडल और कीमत

वेरिएंट की लिस्ट नीचे देखें

एडव्टाइजमेंट

मारूति के अन्य कार मॉडल

 
*Rs

मारूति अल्टो-800 के विडियो

यू-ट्यूब & वेब से सबसे अच्छा विडियो उठाया है - व्यू ऑॅल

भारत में मारूति अल्टो-800 के रिव्यू

 

हाईलाइट्स


जनवरी 14, 2016 : मारूति सुज़ुकी ने घोषणा की है कि वह ऑल्टो सीरीज में भी अब ड्राइवर एयरबैग देगी। यह सेफ्टी फीचर ऑल्टो-800 के बेस वेरिएंट से उपलब्ध कराया जाएगा। इससे ग्राहकों को एंट्री लेवल हैचबेक में भी बेहतर सुरक्षा मिलेगी। ड्राइवर्स की सुविधा के लिए ऑल्टो के सभी वेरिएंट में अभी बांयी तरफ साइड रियर व्यू मिरर दिया जा रहा है। मारूति ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जब केंद्र सरकार ने सभी कारों में एयरबैग देने को अनिवार्य बनाने की बात कही है।

ओवरव्यू


परिचय


1

भारतीय मार्केट में मारूति को सफलता की बुलंदियों पर पहुंचाने में 800 और ऑल्टो का खासा योगदान रहा है। स्विफ्ट,डिजायर और वैगन-आर ने मारूति सुज़ुकी की सफलता और आगे पहुंचाया है। लम्बे समय बाद मारूति ने पॉपुलर हैचबेक 800 को बंद कर नई ऑल्टो-800 को उतारा। इस कार ने भीमारूति की सफलता की कहानी को बनाए रखा। नई ऑल्टो-800 वर्तमान समय में नए अवतार में फिर से पेश हुई है। आइए जानते हैं क्या खास है इस लोकप्रिय कार में...

प्लस पॉइंट



1. बेहतरीन माइलेज क्षमता
2. बेहतर राइड क्वालिटी, सिटी ड्राइविंग में अच्छा प्रदर्शन
3. मारूति सुज़ुकी का बेहतरीन सर्विस नेटवर्क
4. कम कीमत और मेंटेनेंस कॉस्ट

माइनस पॉइंट



1. इयॉन और क्विड की तुलना में डिजायन ज्यादा आकर्षक नहीं है।
2. सीटें पतली हैं, पीछे की सीटें भी तंग हैं, लैग और शोल्डर रूम ना के बराबर है।
3. हाईवे पर कमजोर पड़ जाती है, सिटी में ही उपयोग के लिए बेहतर है।

खास फीचर्स



1. सभी वेरिएंट में एयरबैग का विकल्प।
2. बेहतर राइड क्वालिटी।

ओवरव्यू


2

साल 2004 के बाद से ही ऑल्टो देश में टॉप सेलिंग कार रही है और पिछले एक दशक से इसने अपनी सफलता को बरकरार रखा। हालांकि ऑल्टो-800 को इसके पुराने प्लेटफार्म पर बनाया गया है, लेकिन यह पहले से ज्यादा मजबूत है। मारूति ने इसे तैयार करने में पुरानी ऑल्टो के फॉमूर्ले को अपनाया है। नई ऑल्टो देखने में सिंपल है और कम बजट में कार चाहने वाले वर्ग को बेसिक फीचर्स के साथ संतुष्ट करने की क्षमता रखती है।

एक्सटीरियर


3

नई ऑल्टो न ही एकदम अलग डिजायन वाली कार है और न ही बहुत साधारण डिजायन वाली। मारूति ने नई ऑल्टो को वेवफ्रंट डिजायन दिया है। जिसकी झलक इसकी बॉडी पर दी गई कर्व लाइनों पर देखी जा सकती है।

ऑल्टो-800 के अगले हिस्से में ट्विन ग्रिल के साथ ट्रेपेजोइडल शेप के बम्पर दिए गए हैं, जो पुरानी फीगो की याद दिलाते हैं। बाहर की तरफ उभरे हुए हैडलैंप्स दिए गए हैं। कार का बम्पर प्लेन और सपाट है। हालांकि इसमें कोहरे से बचने के लिए फॉगलैंप्स नहीं दिए गए हैं।

अब आते हैं साइड प्रोफाइल में। यहां बड़ी कर्व लाइन दी गईं हैं। हालांकि ये कर्व लाइन कार के चारों ओर दी गई हैं, इसके व्हील आर्च भी उभरे हुए हैं। इसमें काफी छोटे पहिये दिए गए हैं। कार की विंडो बड़ी और चौड़ी हैं। यहां ब्लैक मोल्डिंग दी गई है, जो इसे साइड से होने वाली टक्कर और डेंट से बचाने के लिए हैं।

4

इसमें स्लोपी रूफ दी गई है। कार की रियर विंडो पुरानी कार की तुलना में छोटी है। पीछे से देखने में ऑल्टो-800 काफी सिंपल लेकिन ऊंची लगती है। हालांकि छोटे टायर इसमें अटपटे लगते हैं। कार का वजन पहले के मुकाबले कम है, इसका अंदाजा इसके दरवाजों को पकड़ने से हो जाता है। कार की छत को रीब्स वाला डिजायन दिया गया है।

ऑल्टो-800 छोटी कार है। इसकी चौड़ाई टाटा नैनो से भी कम है। केबिन में स्पेस भी ज्यादा नहीं है। इस मामले में रेनो क्विड और डेटसन-गो इससे कहीं बेहतर हैं।

Table 01-02

इंटीरियर


5

इंटीरियर की बात करें तो ऑल्टो-800 का केबिन मॉर्डन और व्यवहारिक है। कार के इंटीरियर को दो कलर थीम पर उतारा गया है। इसमें ब्राउन और ग्रे कलर स्कीम शामिल है। वहीं, सीट और स्टीयरिंग व्हील को ब्लैक कलर में रखा गया है।

6

ऑल्टो-800 की सीटें काफी सपाट हैं। ये ज्यादा आरामदायक नहीं हैं। सीटिंग पोजिशन काफी नीची है। हालांकि कार की कीमत के हिसाब से आप यहां बहुत ज्यादा उम्मीद नहीं कर सकते। इसकी फ्रंट सीट अच्छी हैं और ठीक-ठाक सपोर्ट देती हैं। लेकिन अगर सवारियां तंदरूस्त हैं तो हो सकता है कि ड्राइवर और पैसेंजर के कंधे आपस में टकराएं।

पीछे की तरफ दो पैसेंजर तो आराम से बैठ सकते हैं लेकिन तीसरे व्यक्ति के आने पर असुविधा महसूस होगी। कार में हैडरूम कम होने की वजह से लंबे व्यक्तियों को दिक्कत हो सकती है।

कार के स्टीयरिंग व्हील का आकार कंफर्टेबल है। हॉर्न तक ड्राइवर के हाथों की पहुंच भी आसानी से रहती है। वहीं इसके पैडल को भी सही से पोजिशन किया गया है।

7

कार का इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर सिंपल डिजायन का है। इसमें एनालॉग स्पीडोमीटर दिया गया है। बाकी सभी जानकारी डिजिटल डिस्प्ले में मिलती है। इसमें ओडोमीटर और दो ट्रिप मीटर भी दिए गए हैं। टेकोमीटर नहीं दिया गया है।

8

सेंट्रर कंसोल को वी के आकार में रखा गया है, जिस पर हीटर, वेंटिलेशन और एसी कंट्रोल्स दिए गए हैं। म्यूजिक सिस्टम नहीं है लेकिन सिस्टम लगाने के लिए स्पेस मौजूद है। सेंटर एसी वेंट्स को एसी कंट्रोल्स के ऊपर रखा गया है। कार कार एसी अच्छा है और यह केबिन को जल्दी ठंडा करता है लेकिन इसके सेंटर वेंट्स पूरी तरह से बंद नहीं होते।

9

ऑल्टो-800 में स्टोरेज स्पेस ज्यादा नहीं है। लेकिन इसका ग्लोव बॉक्स काफी बड़ा है। स्टोरेज के लिए ग्लोव बॉक्स के ऊपर भी ट्रे नुमा जगह दी गई है, जबकि सेंटर कंसोल के बीच में भी स्टोरेज़ स्पेस मौजूद है।

10

बात करते हैं बूट स्पेस की। ऑल्टो-800 में 177 लीटर का बूटस्पेस दिया गया है। सेगमेंट के हिसाब से यह बूट काफी अच्छा है। वहीं पीछे वाली सीट को फोल्ड करके बूट स्पेस को थोड़ा बढ़ाया भी जा सकता है।

परफॉरमेंस


Table 03

11

पावर स्पेसिफिकेशन की बात करें तो ऑल्टो-800 में पुराने वर्जन जैसा ही 796 सीसी का एफ8डी इंजन दिया गया है। हालांकि इसमें कुछ अपडेट जरूर किए गए है। ऑल्टो-800 का इंजन 47 बीएचपी की पावर 6000आरपीएम पर और 69एनएम का टॉर्क 3500आरपीएम पर जनरेट करता है। इसका तीन सिलेंडर वाला इंजन कम स्पीड पर अच्छा रिस्पॉन्स देता है। स्पीड बढ़ने पर यह ज्यादा शोर करता है। नॉयज़ इंसुलेशन न होने की वजह से शोर केबिन में साफ महसूस होता है।

ऑल्टो-800 सिटी के लिए काफी उपयुक्त कार है। इसमें नया केबल टाइप गियर गया है, जो पहले की तुलना में काफी आरामदायक है। कार का क्लच भी काफी स्मूद है, जो सिटी में राइडिंग को बेहतर बनाता है। यह हाईवे पर चलाने के लिए ज्यादा बेहतर नहीं है। हालांकि यह 22.74 किलोमीटर प्रति लीटर का अच्छा माइलेज देती है।

राइड और हैंडलिंग


12

ऑल्टो-800 में आगे और पीछे की तरफ गैस चार्ज्ड सस्पेंशन दिए गए हैं। जो इसे बेहतर राइडिंग क्वालिटी देते हैं। हर तरह की सड़कों पर ऑल्टो-800 को आसानी से चलाया जा सकता है। सिटी में राइडिंग की बात हो तो ऑल्टो-800 हर उम्मीद पर खरी उतरती है। लेकिन हाईवे पर यह कार राइडिंग के लिए बेहतर नहीं है। इसकी वजह है कार का कम पावरफुल होन और इसके छोटे टायर, जो हाईवे पर आपको पूरा भरोसा शायद न दे पाएं ।

कार का स्टीयरिंग हल्का होने की वजह से सिटी राइडिंग को तो आसान बनाता है लेकिन हाईवे पर यह उतनी अच्छी प्रतिक्रिया नहीं देता है। सिटी में और कभी-कभार की लंबी दूरी में 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक यह कार बेहतर प्रदर्शन करती है।

सेफ्टी


13

एक सिटी कार के तौर पर ऑल्टो-800 अच्छा प्रदर्शन करती है। लेकिन सेफ्टी के मामले में यह काफी पिछड़ी हुई है। इसमें सेफ्टी पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया गया। हालांकि अब सेफ्टी के लिए ड्राइवर साइड एयरबैग दिया जा रहा है, जो कार के सभी वेरिएंट में उपलब्ध है। इसके लिए दस हजार रूपए अलग से देने होंगे।

Table 04

वेरिएंट


Table 05

मारूति की नई ऑल्टो-800 कुल चार वेरिएंट ऑल्टो-800,एलएक्स, एलएक्सआई और वीएक्सआई में उपलब्ध है।

ऑल्टो-800 बेस वेरिएंट है। इसमें सन वाइजर दिया गया है, जो केवल ड्राइवर साइड में है। इसका इंटीरियर ग्रे कलर स्कीम में रखा गया है। इसके अलावा फ्लोर कारपेट, बॉटल होल्डर, इंजन इमोबिलाइज़र, फ्रंट वाइपर और वॉशर और कॉलेप्सिबल स्टीयरिंग दिया गया है।

अगला वेरिएंट है एलएक्स। इसमें बी और सी पिलर पर ट्रिमिंग दी गई है। इसमें एसी के साथ हीटर, फ्रंट डोर मैप पॉकेट, फेब्रिक सीट अपहोल्स्ट्री और रिमोट फ्यूल लीड ओपनर दिया गया है। इसके अलावा ड्राइवर और फ्रंट पैसेंजर के लिए सन वाइजर भी मिलेगा।

अब आते हैं एलएक्सआई वेरिएंट पर, यह टॉप वेरिएंट से नीचे का वेरिएंट है। इसका एक्सटीरियर काफी अच्छा है। इसकी फ्रंट ग्रिल पर क्रोम का इस्तेमाल किया गया है। इसमें फुल साइज के व्हील कवर मिलेंगे। बात करें इंटीरियर की तो यहां काफी जगह सिल्वर फिनिशिंग दी गई है, जो इसे आकर्षक बनाती है। इसके अलावा फ्रंट पावर विंडो, पावर स्टीयरिंग और रिमोट बैक डोर ओपनर जैसे फीचर भी दिए गए हैं।

बात करते हैं टॉप वेरिएंट वीएक्सआई की। इसमें रियर स्पॉइलर, अंदर से एडजस्ट होने वाले बाहरी शीशे, ऑडियो सिस्टम के साथ फ्रंट स्पीकर्स, यूएसबी, ऑक्स-इन और रेडियो,एक्सेसरीज सॉकेट, पीछे की तरफ पार्सल ट्रे और सेंट्रल डोर लॉकिंग जैसे फीचर मिलेंगे।

निष्कर्ष


14

मारूति 800 सिटी ड्राइव के लिए बेहतर कार है। अगर आपको टायर और पावर से ज्यादा लेना-देना नहीं है और कम बजट में केवल एक छोटी कार चाहिए तो आप ऑल्टो-800 ले सकते हैं। अगर आपको इससे ज्यादा स्टाइलिश औऱ पावरफुल कार चाहिये तो फिर ऑल्टो के-10 बेहतर विकल्प है।