होण्डा BR-V

` 9.2 - 13.6 Lac*
होण्डा BR-V फोटोज
  • रंग (कलर्स)

होण्डा BR-V मॉडल और कीमत

वेरिएंट की लिस्ट नीचे देखें

एडव्टाइजमेंट

होण्डा के अन्य कार मॉडल

 
*Rs

होण्डा BR-V के विडियो

यू-ट्यूब & वेब से सबसे अच्छा विडियो उठाया है - व्यू ऑॅल

भारत में होण्डा BR-V के रिव्यू

 

हाईलाइट्स


मई 05, 2016: होंडा ने बीआर-वी को लॉन्च करने के साथ ही मिड साइज़ एसयूवी सेगमेंट में कदम रख दिए हैं। बीआर-वी पेट्रोल की शुरूआती कीमत 8.75 लाख रूपए होगी, यह 11.99 लाख रूपए (एक्स शो-रूम, दिल्ली) तक जाएगी। डीज़ल वेरिएंट की कीमत 9.90 लाख रूपए से शुरू होगी और 12.90 लाख रूपए (एक्स, शो-रूम दिल्ली) तक जाएगी। इसे पेट्रोल में पांच और डीज़ल में चार वेरिएंट में उतारा गया है। यह छह कलर में आएगी। बीआर-वी को अमेज़ और मोबिलियो की तरह ब्रियो हैचबैक के प्लेटफार्म पर बनाया गया है। आगे से एसयूवी जैसी दिखने वाली बीआर-वी साइड से काफी हद तक एमपीवी (मल्टी परपज़ व्हीकल) जैसी दिखाई देती है। बीआर-वी को क्या कहा जाए स्पोर्ट्स यूटीलिटी व्हीकल (एसयूवी) या फिर मल्टी परपज व्हीकल (एमपीवी) इस पर थोड़ा कंफ्यूजन हो सकता है। हालांकि होंडा इसे एसयूवी के तौर पर प्रोजेक्ट करती आई है। लंबी साइड प्रोफाइल और सेवन सीटर होना इसे एमपीवी कैटेगरी में डालते हैं। वहीं बोल्ड स्टाइल का चौड़ा बोनट, दो हिस्सों में बंटी क्रोम ग्रिल, बॉडी क्लैडिंग और स्किड प्लेटें इसे एसयूवी जैसा बनाते हैं। होंडा बीआर-वी में 16 इंच के अलॉय व्हील, प्रोजेक्टर हैडलैंप्स के साथ एलईडी लाइट और रैपराउंड टेल लाइट् के साथ बड़ी रिफ्लेक्टर लाइन भी दी गई है। इसका मुकाबला हुंडई क्रेटा और रेनो डस्टर से होगा।

परिचय


भारत में कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट तेज़ी से बढ़ रहा है। रेनो डस्टर से शुरू हुए इस सेगमेंट में अब लगभग हर प्रमुख कंपनी अपने मॉडल उतार चुकी है। इस सेगमेंट में ताजा एंट्री मारी है होंडा ने अपनी पहली कॉम्पैक्ट एसयूवी बीआर-वी के साथ। बीआर-वी 7-सीटर क्रॉसओवर एसयूवी है। जो हुंडई क्रेटा और रेनो डस्टर के मुकाबले में उतरी है। यहां हम जानेंगे कि क्या खास है होंडा की इस पेशकश में और कितनी टक्कर दे पाएगी मुकाबले में मौजूद खिलाड़ियों को…

1

प्लस पॉइंट



1- 7-सीटर होना सबसे बड़ी खासियत है, लंबे सफर में ज्यादा लोगों के साथ आराम से सफर कर सकते हैं।
2- टॉप वेरिएंट में लैदर अपहोल्स्ट्री का इस्तेमाल किया गया है। इससे केबिन में प्रीमियम अहसास मिलता है।
3-पेट्रोल इंजन काफी रिफाइन और स्मूद है। ऑटोमैटिक का विकल्प भी मौजूद है।
4- डीज़ल इंजन इस सेगमेंट में सबसे ज्यादा माइलेज़ देने वाला है। इसका एआरआई सर्टिफाइड माइलेज़ 21.9 किलोमीटर/लीटर है।

माइनस पॉइंट



1- मुकाबले में मौजूद क्रेटा और डस्टर के मुकाबले जरूर फीचर्स कम दिए गए हैं। टचस्क्रीन इंफोटेंमेंट सिस्टम, रिवर्स पार्किंग कैमरा और पार्किंग सेंसर जैसे महत्वपूर्ण फीचर नहीं मिलेंगे।
2- बिल्ड क्वालिटी थोड़ा निराश कर सकती है। इस्तेमाल हुई मैटल शीट काफी पतली लगती है। केबिन में इस्तेमाल हुआ प्लास्टिक भी हल्का महसूस होता है।
3- डीज़ल वर्जन में ऑटोमैटिक वेरिएंट नहीं दिया गया है। क्रेटा और डस्टर में इसका विकल्प मिलता है।

खास फीचर्स



1- 210 एमएम का ग्राउंड क्लीयरेंस सेगमेंट में बेहतर है और ऑल व्हील ड्राइव रेनो डस्टर के बराबर है।
2- ऑटोमैटिक वेरिएंट में पैडल शिफ्टर्स दिए गए हैं। यह बीआर-वी के अलावा सेगमेंट की दूसरी कारों में मौजूद नहीं हैं।

एक्सटीरियर


होंडा बीआर-वी को स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (एसयूवी) के तौर पर प्रोजेक्ट करती आई है। लेकिन आप इसके डिजायन में मौजूद एमपीवी (मल्टी परपज़ व्हीकल) की झलक को दरकिनार नहीं कर पाएंगे। हालांकि पहली झलक में बीआर-वी चौंकाती जरूर है।

2
होंडा बीआर-वी वैसे तो इस सेगमेंट में सबसे लंबी है लेकिन यह ज्यादा चौड़ी नहीं है। उदाहरण के लिए रेनो डस्टर इससे 87 एमएम ज्यादा चौड़ी है। एसयूवी जैसा अहसास देने के लिए होंडा ने इसमें मैट ब्लैक फिनिश वाली क्लैडिंग और रूफ रेल्स दी हैं, जो बीआर-वी के डिजायन के साथ अच्छे से घुली-मिली नज़र आती हैं। 16 इंच के अलॉय व्हील में वैसी ही फिनिशिंग दी गई है जैसी मोबिलियो आरएस में मौजूद है।अलॉय व्हील अच्छे तो लगते हैं लेकिन एसयूवी के हिसाब से ये थोड़े छोटे और कम चौड़े हैं। इस वजह से यह साइड प्रोफाइल में अपनी मौजूदगी को ज्यादा दर्शा नहीं पाते हैं।

3
बीआर-वी को सामने से देखें तो इसके फ्रंट का कुछ हिस्सा एकॉर्ड से मिलता-जुलता लगता है। यहां चौड़े प्रोजेक्टर हैडलैंप्स, एलईडी लाइट गाइड और मैट सिल्वर फिनिश वाली स्किड प्लेट मिलेगी। यह सब इसे कॉम्पैक्ट एसयूवी वाला अहसास देते हैं। बोनट और बंपर पर क्रीज़ लाइनें दी गई हैं। यह इसे थोड़ा अग्रेसिव यानी आक्रामक बनाती हैं।

4
बीआर-वी का पिछला हिस्सा बहुत ज्यादा आकर्षक या प्रभावित करने वाला नहीं है और यह मिनी वैन जैसा लगता है। दोनों तरफ रैप-अराउंड डिजायन वाले टेललैंप्स दिए गए हैं, जो एक बड़ी रिफ्लेक्टर लाइन से जुड़े हैं। यह लाइन पूरे बूट एरिया को कवर करती है। नंबर प्लेट के ऊपर दी गई क्रोम लाइन और स्किड प्लेट को छोड़ दें तो पीछे की तरफ बताने के लिए और कुछ नहीं है।

5
कुल मिलाकर कहा जाए तो बीआर-वी, ना तो डस्टर जितनी मस्कुलर और दमदार है और ना ही इसका डिजायन हुंडई क्रेटा जितना साफ है। इस मामले में यह कहीं बीच में रह जाती है। कुछ खास एंगल से देखें तो निश्चित तौर पर यह अच्छी लगती है।

Table-1

इंटीरियर


होंडा सिटी की सबसे बड़ी खासियत उसके इंटीरियर हैं। लिहाजा बीआर-वी के मामले में भी होंडा ने ट्रेंड के साथ चलने का फैसला किया और सिटी जैसा ही केबिन इसमें दिया है। केबिन को आर ब्लैक थीम में रखा गया है। केबिन काफी स्पोर्टी और क्लासिक फील होता है। पियानो ब्लैक सेंटर कंसोल और केबिन में इस्तेमाल हुए डल सिल्वर एक्सेंट इसमें प्रीमियम अहसास देते हैं।

6
बाहर से देखने में यह थोड़ी मोबिलियो जैसी लग सकती है लेकिन इसका केबिन कहीं से भी मोबिलियो जैसा नहीं है। हालांकि सेगमेंट में मुकाबले को देखते हुए यहां सुधार की गुंजाइश बनी हुई है। टॉप वेरिएंट में जरूर अच्छी क्वालिटी की लैदर अपहोल्स्ट्री का इस्तेमाल किया गया है। स्टीयरिंग व्हील डोर आर्मरेस्ट और गियर नॉब पर भी लैदर दिया गया है। सभी सातों सीटों के हैडरेस्ट को अपनी सुविधानुसार एडजस्ट कर सकते हैं।

7
केबिन में पैसेंजर को पर्याप्त जगह देने के मामले में होंडा को काफी सराहा जाता है। उदाहरण के लिए होंडा की हैचबैक जैज़ को ले लीजिये, छोटी कार होने के बावजूद इसमें जितनी जगह मिलती है उतनी उससे ऊपर की सेगमेंट की दूसरी सेडान कारों में भी नहीं मिलती। बीआर-वी में भी तीनों पंक्तियों की सीटों में अच्छी जगह मिलती है। पीछे की तरफ दोनों पंक्तियों की सीटों में 6 फुट के लोग आराम से बैठ सकते हैं। हालांकि सीटों में दिया गया कुशन सपोर्ट थोड़ा हार्ड है। लंबी यात्राओं के लिए तो यह ठीक है लेकिन छोटे सफर में यह थोड़ा परेशानी वाला साबित हो सकता है।

8
बीआर-वी में लैगरूम और हैडरूम की कमी बिल्कुल नहीं महसूस होगी। हालांकि थाई सपोर्ट थोड़ा कम मिलेगा। सेकंड रो की सीट तीन लोगों के बैठने के लिहाज से आरामदायक नहीं है। तीसरी पंक्ति में आश्चर्यजनक रूप से ज्यादा हैडरूम मिलता है लेकिन यहां पैसेंजर को बैठने में थोड़ी असुविधा हो सकती है। यह सीटें बच्चों के लिए ही ठीक हैं। यहां अंडर थाई सपोर्ट भी कम मिलेगा।

9
बीआर-वी में 223 लीटर का बूट स्पेस दिया गया है। तीसरी पंक्ती की सीटों को फोल्ड कर दें तो इसे 691 लीटर तक बढ़ाया जा सकता है।

Table-2
बीआर-वी वैसे तो बड़े परिवारों के लिए आदर्श गाड़ी है और ज्यादातर जरूरतों को पूरा भी करती है लेकिन कुछ फीचर्स के मामले में यह निराश करती है। इसमें आपको की-लैस एंट्री ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल, रूप माउंटेड रियर एसी वेंट्स मिलेंगे। लेकिन नए जमाने का इंफोटेंमेंट सिस्टम और पार्किंग सेंसर जैसे अहम और जरूरी फीचर्स का यहां आभाव है। इसके अलावा 12 वोल्ट का एक ही पावर सॉकेट दिया गया है। तीन पंक्ती वाली सीटों को देखते हुए यह नाकाफी लगता है।

10

परफॉरमेंस


बीआर-वी को होंडा सिटी वाले दो इंजन दिए गए हैं। जो काफी भरोसेमंद और लोकप्रिय हैं। यह पेट्रोल और डीज़ल दोनों में उपलब्ध है।

1.5 लीटर आई-वीटेक इंजन (पेट्रोल)


इसका पेट्रोल इंजन सेगमेंट की बाकी गाड़ियों के मुकाबले काफी स्मूद और रिफाइन है। पेट्रोल इंजन तेजी से रफ्तार पकड़ता है और ऊंची रफ्तार पर टिका रहता है। यह इंजन 6-स्पीड गियरबॉक्स के साथ जुड़ा है और इसे चलाना काफी मजेदार अहसास देता है। बीआर-वी का क्लच हल्का है और अच्छी प्रतिक्रिया देता है। बिना किसी झटके के इंजन पावर देता है। इंजन और गियरबॉक्स को ऐसे ट्यून किया गया है कि यह बीआर-वी के वजन को सही से संभाल सके और अच्छी परफॉरमेंस दे सके।

11
पेट्रोल इंजन में सीवीटी ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का विकल्प मौजूद है। ऑटोमैटिक गियरबॉक्स का परफॉरमेंस भी अच्छा है। हालांकि इंजन को जल्दी और ज्यादा रेस देने के दौरान इंजन में थोड़ा झटका महसूस हो सकता है। ऐसी स्थिति में यह आवाज भी ज्यादा करता है। हमारी सलाह है कि ऑटोमैटिक वेरिएंट के एक्सीलेटर को आराम से ही इस्तेमाल किया जाए तो बेहतर रहेगा। इसके अलावा ऑटोमैटिक वेरिएंट में पैडल शिफ्टर्स भी दिए गए हैं। इनकी मदद से आप खुद गियरबॉक्स को कंट्रोल कर सकते हैं। पैडल शिफ्टर्स का रिस्पॉन्स अच्छा है और यहां कोई शिकायत नहीं मिलेगी।

Table-3

1.5 लीटर आई-डीटेक (डीज़ल)


बीआर-वी के डीज़ल वर्जन में नॉयज़, वाइब्रेशन और हार्सनेस को अच्छे से कंट्रोल किया गया है। अमेज़ के मुकाबले यह ज्यादा रिफाइन महसूस होती है। हालांकि इंजन स्पीड 3000 आरपीएम से ज्यादा होने पर केबिन में शोर सुनाई देता है। वहीं 1500 से नीचे के आरपीएम लेवल पर बीआऱ-वी में टर्बोलैग महसूस होता है। पेट्रोल की तरह डीज़ल बीआऱ-वी का क्लच भी हल्का महसूस होता है। इस वजह से बंपर टू बंपर ट्रैफिक में इसे चलाना आसान है । होंडा बीआर-वी की सबसे अच्छी बात है इसका माइलेज़। कंपनी का दावा वैसे तो 21.9 किलोमीटर प्रति लीटर का है लेकिन टेस्ट के दौरान हम इस आंकड़े को नहीं पा सके। हालांकि माइलेज़ का यह आंकड़ा 15 किलोमीटर प्रति लीटर के आंकड़े से नीचे भी नहीं गया, जो इस साइज़ की गाड़ी को देखते हुए अच्छी बात कही जा सकती है।

Table-4

राइड और हैंडलिंग


बीआर-वी एक कार जैसी एसयूवी है इसे रेनो डस्टर की तरह बेहद खराब और ऊबड़-खाबड़ रास्तों में इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। थोड़ी खराब सड़कों पर यह आराम से निकल जाती है। इसका ग्राउंड क्लीयरेंस 210 एमएम का है। इसे सॉफ्ट रोडर कहा जा सकता है, ऑफ रोडिंग में इसे इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। हालांकि होंडा की अन्य कारों की तरह इसके सस्पेंशन भी थोड़े सख्त हैं। जो बेहतर ड्राइविंग कंट्रोल के साथ भरोसेमंद राइड देते हैं।

12
इसकी हैंडलिंग बेहतर है। राइडिंग के दौरान यह अच्छा रेस्पॉन्स देती है। इसके स्टीयरिंग व्हील का वजन और बैलेंस एकदम सही है। कम रफ्तार पर स्टीयरिंग व्हील वजन में हल्का बना रहता है। लंबी ज्यादा होने की वजह से इसका टर्निंग रेडियस भी ज्यादा है। यू टर्न लेते वक्त आपको इसका अहसास होगा। मुड़ने के दौरान यह कंट्रोल में रहती है, जो अच्छी बात है। सेकेंड और थर्ड रो में थोड़े झटके महसूस हो सकते हैं। हालांकि छोटे सफर में इस बात को नज़रअंदाज़ किया जा सकता है।

सेफ्टी


सेफ्टी के मामले में बीआर-वी निराश नहीं करेगी। इसमें पैसेंजर सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा गया है। एशियन एनसीएपी क्रैश टेस्ट में इसे व्यस्क पैसेंजर सुरक्षा (एओपी) के मामले में 5-स्टार और बच्चों की सुरक्षा (सीओपी) के मामले में 4-स्टार रेटिंग मिली है।

13
सेफ्टी के लिए होंडा बीआर-वी के सभी वेरिएंट में ड्यूल फ्रंट एयरबैग स्टैंडर्ड दिए गए हैं। जबकि बेस वेरिएंट को छोड़कर सभी वेरिएंट में एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस) भी उपलब्ध है। अन्य सेफ्टी फीचर्स के तौर पर सभी वेरिएंट में ड्राइवर सीट बेल्ट रिमाइंडर, सिक्योरिटी अलार्म और इंपेक्ट सेसिंग डोर अनलॉक जैसे फीचर दिए गए हैं।

वेरिएंट


होंडा बीआर-वी को कुल चार वेरिएंट में उतारा गया है, जो क्रमशः ई, एस, वी और वीएक्स वेरिएंट है। इसका बेस वेरिएंट ई और टॉप वेरिएंट वीएक्स है, जबकि एस और वी दोनों मिड वेरिएंट है। सेफ्टी के लिए होंडा बीआर-वी के सभी वेरिएंट में ड्यूल फ्रंट एयरबैग स्टैंडर्ड दिया गया है। एबीएस के साथ ईबीडी को डीज़ल बेस वेरिएंट से स्टैंडर्ड दिया गया है। पेट्रोल वेरिएंट में यह सेफ्टी फीचर केवल एस वेरिएंट में ही उपलब्ध है। इसके बेस वेरिएंट ई में कुछ जरूरी फीचर्स ही दिए गए हैं। जिसमें इंटरटेनमेंट सिस्टम शामिल है। टाइट बजट में बड़ी गाड़ी की चाहत रखने वालों के लिए बेस वेरिएंट अच्छा है। अगर आप बेस वेरिएंट से कुछ ज्यादा फीचर्स चाहते हैं तो इसका एस वेरिएंट ले सकते हैं।

Table-5
बीआऱ-वी में अच्छे फीचर्स के लिए टॉप वेरिएंट तक जाने की जरूरत नहीं है। इसके एस वेरिएंट में भी आपको अच्छे फीचर्स मिल जाएंगे। इनमें मल्टी मीडिया सपोर्ट वाला 2-डिन म्यूजिक सिस्टम, स्टीयरिंग माउंटेड ऑडियो कंट्रोल, ऑटोमैटिक क्लाइमेट कंट्रोल, फोल्डेबल सेकेंड रो सीट, रियर एसी वेंट्स, हाईट एडजस्टेबल ड्राइवर सीट, रियर डिफॉगर, वाइपर और वाशर जैसे फीचर्स मिलेंगे, जो इसे वैल्यू फॉर मनी प्रोडक्ट बनाते हैं। अब आते हैं वी वेरिएंट में, इसमें एस वेरिएंट के अलावा कुछ एक्स्ट्रा फीचर्स दिए गए हैं, इनमें पुश बटन स्टार्ट, अलॉय व्हील और एमआईडी जैसे फीचर्स शामिल हैं। यह वेरिएंट खासतौर पर ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन की चाहत रखने वालों के लिए बेहतर रहेगा। वैसे इसमें मैनुअल का विकल्प तो मौजूद है ही। अगर आप ज्यादा फीचर्स और प्रीमियम कार चाहते हैं तो टॉप वेरिएंट वीएक्स चुन सकते हैं। इसके इंटीरियर में प्रीमियम लैदर और कुछ अतिरिक्त प्रीमियम फीचर्स दिए गए हैं।

निष्कर्ष


बीआर-वी के साथ होंडा ने अच्छा सामंजस्य बैठाया है। कार का सेवन सीटर होना और पेट्रोल-डीज़ल इंजन का ऑप्शन होंडा बीआर-वी के लिए अच्छा है। इसके इंजन भी काफी भरोसेमंद, सफल और लोकप्रिय हैं। इसके अलावा बाकी चीजों को ठीक-ठाक ही कहा जा सकता है। इसमें ऐसा कुछ नहीं है कि जो आपको चौंका दें। आज ग्राहक अपनी कार में ज्यादा से ज्यादा फीचर्स की चाहत रखते हैं ऐसे में बीआर-वी को कम फीचर्स के साथ उतारना बाजार में मौजूद मुकाबले को देखते हुए कमजोर कदम कहा जा सकता है। इस मामले में हुंडई ने क्रेटा में काफी समझदारी से काम लिया है और इसका नतीजा सामने है। क्रेटा की सफलता सेगमेंट में एक बेंचमार्क बन गई है।

14
7-सीटर होना और होंडा की भरोसेमंद सर्विस और बड़ा नेटवर्क होंडा बीआर-वी के पक्ष में जाता है। इसके पेट्रोल वेरिएंट की कीमत 8.75 लाख रूपए से शुरू होती है जो 11.99 लाख रूपए तक जाती है। डीज़ल वेरिएंट की कीमत 9.90 लाख रूपए से शुरू होकर 12.90 लाख रूपए तक जाती है। मुकाबले में मौजूद हुंडई क्रेटा और रेनो डस्टर भी इसी कीमत के आस-पास उपलब्ध हैं। लेकिन 7-सीटर होने की वजह से बड़े परिवार वाले ग्राहकों को यह अपनी ओर आकर्षित कर सकती है। हमारे मुताबिक बीआर-वी की कीमत तो सही है लेकिन होंडा को चाहिये था कि इसे थोड़े और फीचर्स से लैस किया जाता।