भारत में टोयोटा कार

टोयोटा मोटर काॅरपोरेशन एक मल्टीनेशनल आॅटोमोबाइल मेन्यूफेक्चरिंग कंपनी है जिसका मुख्यालय आइची, जापान में है। यह कंपनी पिछले काफी सालों से विष्व की सबसे बड़ी कंपनी बनकर न. 1 की रैंक पर कायम है। साल 2011 के पहले, जब यह जापानी आॅटो कंपनी विष्व के तीसरे पायदान पर खिसक गई थी, पर अगले तीन सालों में इसने फिर से अपनी पोजिशन हासिल कर ली है। 2011 में यूएसए की जनरल मोटर्स और जर्मनी की फाॅक्सवेगन की प्रोडेक्ट और सेल्स गिरने के बाद, टोयोटा अपने प्रतिद्वंद्वियों को पीछे छोड़ते हुए 2012 में पहले नम्बर की रैंकिंग पाने में सफर हुआ और तब से इसी पोजिषन पर कायम है। आज की सबसे बड़ी आॅटोमोबाइल कंपनी टोयटा, वास्तव में 1933 में जापान की आॅटोमेटिक लूम वर्क के रूप में स्थापित हुई थी जो एक बड़ी टेक्सटाइल बिजनेस हाउस कंपनी थी। टोयटा के संस्थापक और एक इनोवेटर किचिरो ने आॅटोमोबाइल की प्रेरणा यूएसए और यूरोप में फैले अपने टेक्सटाइल बिजनेस से ली। 1935 में टोयोटा की पहली कार आई जिसे ए1 और जी1 नाम दिया गया और तब से टोयोटा मोटर काॅरपोशन एक स्वतंत्र आॅटोमोबाइल कंपनी बन गई। भारत की घरती पर टोयोटा मोटर काॅरपोरेषन ने किरलोस्कर गु्रप के साथ संयुक्त व्यवसाय में अक्टूबर, 1997 में कदम रखा और इसका नाम पड़ा ‘टोयोटा किरलोस्कर मोटर प्रा. लि.’ और इसका मुख्यालय बैग्लोर, कर्नाटक में बनाया गया जहां कारों की मेन्यूफैक्चिरंग के साथ बिक्री हुआ करती थी और शुरूवात में ही इस कंपनी का सामना देष में पहले से ही मौजूद मारूति सुजुकी, हुडंई, टाटा, महिन्द्रा और शेरवले से हुआ। तभी से टोयोटा अपने नए-नए प्रोडेक्ट, युवाओं को रोजगार और अपनी नई टेेकनोलाॅजी के लिए जाना जाने लगा। वर्तमान में कर्नाटक सहित भिवाड़ी में भी इसके प्लांट हैं, भिवाड़ी में 432 एकड़ में फैले इसके प्लांट में सालभर में 80,000 यूनिट की मेन्यूफैक्चरिंग होती है, वहीं बैग्लोर में इतने ही समय में 70,000 यूनिट और कुल क्षमता 1,50,000 यूनिट प्रोडेक्षन की है। देष में टोयोटा की सबसे ज्यादा डिमांड इटिओस और फाॅरच्यूनर माॅडल्स की है। अपने नेटवर्क को बढ़ाने के लिए टोयोटा के देषभर के 96 शहरों और 22 राज्यों में 181 डीलरषिप मौजूद हैं। देश में उपलब्ध माॅडल टोयोटा ने दे में अपनी पोपुलर एमपीवी क्वालिस से एंट्री ली जो 1999 में आई थी। देश में पहले से मौजूद अन्य आॅटो कंपनियों के रहते उनसे मुकाबला करना कोई आसान काम नहीं था। इसी कारण से 2005 में क्वालिस डिस्कंट्ीन्यू कर दी गई और उसकी जगह इनोवा, अल्टिस ट्विन्स, फाॅरच्यूनर और कम्री जैसे माॅडल्स को उतारा गया। वर्तमान में टोयोटा किरलोसकर मोटर प्रा. लि. इटिओस लीवा, इटिओस क्राॅस, इनोवा और टोयोटा कोरोला अल्टिस सहित 10 माॅडल्स सीरीज देश में उपलब्ध है। अपकमिंग माॅडल 1997 में क्वालिस के साथ एंट्री करने वाली टोयोटा ने अपनी माॅडल लाइनप में काफी दमदार और आकर्षक माॅडल्स को शामिल किया है। इटिओस लीवा, इटिओस क्राॅस, इनोवा और टोयोटा कोरोला अल्टिस के अलावा कुछ माॅडल्स अभी लाइन में हैं जो देश में सड़कों पर दौड़ने को पूरी तरह से तैयार हैं। इनमें से टोयोटा इनोवा और टोयोटा विओस प्रमुख हैं।
अधिक पढ़े
* यहां दिखाई गई टोयोटा की कीमत केवल सांकेतिक कीमतें हैं। यह राशि टोयोटा Rs की निम्नतम अनुमानित कीमत को प्रदर्शित करती है जो टेक्स, रजिस्टट्रेशन, बीमा और सामान की लागत से अलग है। टोयोटा की सटीक कीमत के लिए टोयोटा डीलर से सपंर्क करें।

नई कार 2017

2017 में भारत की नई कारों पर पढें | 2017 को आने वाली कार के बारे में रिव्यू और कीमत सहित सभी जानकारी प्राप्त करें।

2017 में भारत की पोपुलर नई कारें

2017 में भारत की पोपुलर नई कारों को सर्च करें। संभावित कीमत और स्पेसिफिकेशन आदि की जानकारी कारदेखोे पर प्राप्त करें.

भारत में टोयोटा डीलर्स

Other Car Models In India