भारत में रेनो कार

रेनो। 1899 में तीन रेनो ब्रदर्स लुइस, मार्सल और फर्नांड की स्थापित की गई फ्रांस की मल्टीनेशनल कार मेन्यूफैक्चरिंग कंपनी है जो भारत में काफी चर्चित है। हालांकि कंपनी की नींव 1899 में रखी गई हो, लेकिन एक साल पहले ही तय हो चुका था कि इन गाडि़यों की इसी बैनर तले बेचा जाएगा। इसी साल में रेनो की पहली कार वोइचर्टे 1सीवी आई जो लुईस रेनो ने खुद डिजाइन की थी। लुईस ने इस कंपनी को खुलने से पहले खुद कई डिजाइन बनाए और इसे जमीन पर उतारने के लिए अपने भाईयों से हाथ मिलाते ही कंपनी का निर्माण किया। इसी पहली डिजाइन का नाम वोइचर्टे 1सीवी था, बाद में इसे रेनो भाईयों के पिता के एक दोस्त ने खरीद लिया। रेनो का भारत में आने का सफर भी काफी शानदार था। 2005 में महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा से पार्टनरषिप करते हुए एक कंपनी सामने आई जिसे नाम दिया गया महिन्द्रा रेनो लिमिटेड और इन गठबंधन की पहली कार आई मई, 2007 में जो थी लोगन। यह जोइंट वेंचर फरवरी, 2010 में खत्म हो गया और महिन्द्रा ने रेनो के कुछ प्रोटक्ट सपोर्ट से लोगन का निर्माण जारी रखा। बाद में अपडेटेड लोगन सेडान रेनो द्वारा मार्केट में लाई गई जो भारतीय लोगों को इतनी पसंद आई जो आज भी महिन्द्रा वेरिटो के नाम से प्रचलित है। इस गठजोड़ के बाद रेनो ने फिर से अपने आपको भारत में अक्टूबर, 2010 में रेनो इण्डिया प्रा. लि. के नाम से स्थापित किया और इसका मुख्यालय मुम्बई में तथा प्रोडेक्षन प्लांट तमिलनाडू में खोला। तमिलनाडू रेनो-निसान की जाॅइंट वेंचर यूनिट जो मार्च, 2010 में चैन्नई में रेनो-निसान एलाइंस आॅपरेषन के तहत खोली गई थी, उसी की एक इकाई थी। इस प्लांट में करीब 4 लाख यूनिट व्हीकल प्रतिसाल मैन्यूफेक्चर किए जाते थे। इतना ही नहीं, रेनो पांचवा ब्रांड था जिसने सेटेलाइट ग्लोबल व्हीकल डिजाइन स्टूडियो खोलो जो मुम्बई है। वर्तमान में इस फ्रंेच आॅटोमेकर कंपनी के नेटवर्क देषभर के 16 स्टेट और 2 केन्द्र शासित प्रदेषों में 60 की संख्या को पार करते हैं। भारत में रेनो के उपलब्ध माॅडल साल 2010 में रेनो इण्डिया प्रा. लि. के नाम से आई इस कंपनी ने अपनी पहली कार मई, 2011 में रेनो फ्यूएंस के नाम से निकाली। इसी साल सितम्बर में ैन्ट सेग्मेंट में कदम रखते हुए कोलेओस को लाॅन्च किया जो एक बड़ी उपलब्धि थी। इस ैन्ट की लाॅन्चिंग के महिने में 120 से पार बुकिंग थी। लेकिन रेनो को सफलता और प्रसिद्धि मिली जुलाई, 2012 में आई रेनो डस्टर से, जिसके बाद रेनो के कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। डच्ट सेग्मेंट में भी हाथ आजमाते हुए रेनो ने 2015 में रेनो लाॅजी को भी लाॅन्च किया है जो मारूति सुजुकी अर्टिका, होण्डा मोबेलियो और टोयोटा इनोवा जैसे बड़े ब्रांड को जबरदस्त टक्कर दे रही है। वर्तमान में रेनो के भारत में 6 कार माॅडल रेनो प्लस, रेनो स्काला, रेनो डस्टर, रेनो लाॅजी, रेनो फ्लूएंट और रेनो कोलेओस उपलब्ध हैं। अपकमिंग कार भारत की सरजमीन पर अपना पहला कदम साल 2005 में रखने वाली रेनो ने देष में ग्राहकों की पसंद को बढ़ाने के लिए हैचबैक, एमपीवी, सेडान और ैन्ट की स्टाइलिष रेंज पेष की है। वर्तमान में कंपनी के 6 माॅडल मौजूद है और रेनो क्लियो, रेनो डोकर, रेनो सेन्डेरो और रेनो ग्ठ। के जल्दी ही इस ब्रांड सीरीज में जुड़ जाने की उम्मीद हैं।
अधिक पढ़े
* यहां दिखाई गई रेनो की कीमत केवल सांकेतिक कीमतें हैं। यह राशि रेनो Rs की निम्नतम अनुमानित कीमत को प्रदर्शित करती है जो टेक्स, रजिस्टट्रेशन, बीमा और सामान की लागत से अलग है। रेनो की सटीक कीमत के लिए रेनो डीलर से सपंर्क करें।

नई कार 2017

2017 में भारत की नई कारों पर पढें | 2017 को आने वाली कार के बारे में रिव्यू और कीमत सहित सभी जानकारी प्राप्त करें।

2017 में भारत की पोपुलर नई कारें

2017 में भारत की पोपुलर नई कारों को सर्च करें। संभावित कीमत और स्पेसिफिकेशन आदि की जानकारी कारदेखोे पर प्राप्त करें.

भारत में रेनो डीलर्स

अधिक देखें रेनो डीलर भारत मे

Other Car Models In India