भारत में पॉर्श कार

अपनी एक सदी की सफलता की कहानी कहती पहली पॉर्श कार ‘पॉर्श 356’ करीब 60 साल पहले 8 जून, 1948 को रजिस्टर्ड हुई थी और इस दिग्गज ब्रांड के पीछे फर्डिनेंस पॉर्श नामक एक आदमी था। पॉर्श 356 के जरिए इस ब्रांड ने विश्वस्तर पर अपनी एक अलग पहचान बनाई और 1948 में एक सफल और रेसिंग कार कंपनी बना। पॉर्श 356 की 52 यूनिट को आस्ट्रिया में बनाया गया था। फैरी पॉर्श ने हेंज नोर्डोफ, जनरल मेनेजर, फाॅक्सवेगन के साथ हुई एक डील में पॉर्श स्पोर्ट्स कार सीरीज के लिए आवश्यक पार्ट्स फाॅक्सवेगन द्वारा देने पर सहमति ली और उसके बाद पॉर्श की कारों को VW के सेल्स नेटवर्क के जरिए बेचा जाने लगा। पॉर्श कारें न केवल लुक, बल्कि अपनी डिजाइन और क्वालिटी के जरिए भी विश्वभर में एक पहचान रखती है, साथ ही यह ब्रांड परफोरमेंस के साथ-साथ अपनी कारों में सेफ्टी का भी पूरा ध्यान रखता है। भारत की बात करें तो यह जर्मन कार कंपनी फाॅक्सवेगन एजी बैनर के नीचे अपने पॉर्श कारों को भारत में बेचता है। प्रेसिजन कार इण्डिया के देश में फैले 8 शोरूम के सहारे पोर्ष कारों की बिक्री की जाती है लेकिन जल्दी ही पॉर्श खुद की मार्केटिंग और सेल्स टीम के जरिए इस ब्रांड को भारत में बेचेगा। इण्डियन शोरूम में पॉर्श 911, पॉर्श बाॅक्सटेयर, पॉर्श कैमैन, पॉर्श पनामिरा और पॉर्श कैन सहित अन्य माॅडल्स को भी काफी सफलता मिली है। पॉर्श कार भारत में CBU (कम्पलिट बिल्ड यूनिट) के जरिए उतारता है।
अधिक पढ़े
* यहां दिखाई गई पॉर्श की कीमत केवल सांकेतिक कीमतें हैं। यह राशि पॉर्श Rs की निम्नतम अनुमानित कीमत को प्रदर्शित करती है जो टेक्स, रजिस्टट्रेशन, बीमा और सामान की लागत से अलग है। पॉर्श की सटीक कीमत के लिए पॉर्श डीलर से सपंर्क करें।

नई कार 2017

2017 में भारत की नई कारों पर पढें | 2017 को आने वाली कार के बारे में रिव्यू और कीमत सहित सभी जानकारी प्राप्त करें।

2017 में भारत की पोपुलर नई कारें

2017 में भारत की पोपुलर नई कारों को सर्च करें। संभावित कीमत और स्पेसिफिकेशन आदि की जानकारी कारदेखोे पर प्राप्त करें.

Other Car Models In India