भारत में लेम्बोर्गिनी कार

इटालियन आॅटोमोबिली लेम्बोर्गिनी ने साल 1963 में आॅटोमोबाइल क्षेत्र में प्रवेश किया। इसे स्थापित करने का श्रेय जाता है फारूषियो लेम्बोर्गिनी को, जिन्होंने फेरारी के साथ अन्य उपस्थित ब्रांड के प्रतिस्पर्धा करने के उद्देश्य से इस कंपनी की स्थापना की थी। फारूषियो को बचपन से ही कारों का जबरदस्त शौक था और जवानी तक आते-आते उनका यह शौक परवान चढ़ने लगा था। फेरारी उनकी पसंदीदा कार थी और साल 1958 में अपनी पहली फेरारी कार 250 जीटी खरीदी और उन्होंने पाया कि फेरारी काफी ज्यादा आवाज करती थी। एक दिन उनकी फेरारी का क्लच टूट गया था और वें फेरारी के पास गए और इसे रिपेयर करने को कहा। वहां फेरारी ने कहा कि वह केवल एक ट्रेक्टर है और उसे स्पोर्ट्स कार के बारे में ज्यादा पता नहीं है। इसी बात ने उन्हें अपनी एक स्पोर्ट्स कार कंपनी लाने के लिए प्रेरित किया और इस घटना के केवल 4 महिनों के बाद उनकी पहली कार लेम्बोर्गिनी 350GTV आई, जिसे 1963 में ट्यूरिन मोटर शो में दिखाया गया और अगले साल इसका उत्पादन शुरू हुआ। भारत की बात करें तो यह ब्रांड 2008 तक देश में नहीं देखा गया था, और उसके बाद लेम्बोर्गिनी ने नई दिल्ली में अपना पहला शोरूम खोला और अप्रैल, 2012 में इसका दूसरा शोरूम मुम्बई में खोला गया। यहां आर्थिक मंदी के बाद भी इस ब्रांड को देश में एक अच्छा-खासा बाजार मिला है। साल 2015 में कंपनी ने 40-50 लेम्बोर्गिनी ब्रांड की कारों को बेचने का लक्ष्य रखा है। इस ब्रांड ने इण्डियन आॅटो मार्केट को हमेशा से ही एक सफल आॅटो बाजार की तरह से देखा है और आश्चर्य नहीं होना चाहिए कि आने वाले कुछ सालों में कुछ और शोरूम देश में देखे जा सकते हैं।
अधिक पढ़े
* यहां दिखाई गई लेम्बोर्गिनी की कीमत केवल सांकेतिक कीमतें हैं। यह राशि लेम्बोर्गिनी Rs की निम्नतम अनुमानित कीमत को प्रदर्शित करती है जो टेक्स, रजिस्टट्रेशन, बीमा और सामान की लागत से अलग है। लेम्बोर्गिनी की सटीक कीमत के लिए लेम्बोर्गिनी डीलर से सपंर्क करें।

नई कार 2017

2017 में भारत की नई कारों पर पढें | 2017 को आने वाली कार के बारे में रिव्यू और कीमत सहित सभी जानकारी प्राप्त करें।

2017 में भारत की पोपुलर नई कारें

2017 में भारत की पोपुलर नई कारों को सर्च करें। संभावित कीमत और स्पेसिफिकेशन आदि की जानकारी कारदेखोे पर प्राप्त करें.

Other Car Models In India